भारत में कोरोना का ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कब आएगी वैक्सीन

अब हर कोई भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन से जुड़ी सभी जानकारियां एक पोर्टल पर देख सकता है. बता दें कि भारत में पहली बार देश के शीर्ष चिकित्सा अनुसंधान निकाय भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने एक वैक्सीन पोर्टल लॉन्च किया है. 

भारत में कोरोना का ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कब आएगी वैक्सीन
फाइल फोटो (जी मीडिया)

नई दिल्लीः दुनिया भर के लोग इस वक्त कोरोना की मार झेल रहे हैं. भारत में भी इस महामारी का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है. देश में अब तक 60 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हो चुके हैं जबकि 95 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. देश के वैज्ञानिक कोविड-19 की वैक्सीन बनाने में जुटे हैं. सोमवार (28 सितंबर) को स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोरोना वैक्सीन को लेकर जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि 2021 की पहली तिमाही के भीतर कोरोना वायरस की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) देश में उपलब्ध होगी. इसी दौरान उन्होंने Covid-19 वैक्सीन पोर्टल का उद्घाटन किया. 

अब हर कोई भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन से जुड़ी सभी जानकारियां एक पोर्टल पर देख सकता है. बता दें कि भारत में पहली बार देश के शीर्ष चिकित्सा अनुसंधान निकाय भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने एक वैक्सीन पोर्टल लॉन्च किया है. 

हेल्थ मिनिस्टर ने कहा, 'वैक्सीन को लेकर रिसर्च तेजी से किया जा रहा है. देश में कम से कम तीन वैक्सीन परीक्षण के अलग-अलग चरणों में हैं. हमें उम्मीद है कि 2021 की पहली तिमाही के भीतर वैक्सीन उपलब्ध होगी. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि COVID-19 वैक्सीन के बारे में एक ऑनलाइन पोर्टल भी लॉन्च किया गया है. हर कोई उस पोर्टल पर ऑनलाइन जा सकेगा और टीकाकरण के बारे में सभी समकालीन अनुसंधान और विकास से संबंधित जानकारी देख सकेगा.'

ये भी पढ़ें- कोरोना काल में पेट भरने के लिए सब्जी बेचने को हुए मजबूर Balika Vadhu के डायरेक्टर

सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry Of Health) की तरफ से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 82 हजार 170 नए मामले सामने आए और इस दौरान 1,039 लोग इस जानलेवा वायरस का शिकार बने हैं.

स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड वैक्सीन पोर्टल की लॉन्चिंग के दौरान कहा, ICMR के दूसरे सीरो सर्वेक्षण से संकेत मिलता है कि भारत की आबादी कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के खिलाफ हर्ड इम्युनिटी (Herd Immunity) क्षमता हासिल करने से दूर है, लिहाजा संक्रमण से निपटने के लिए दिशा-निर्देशों का पालन करने की जरूरत है.

हर्षवर्धन ने कहा, 'सीरो सर्वेक्षण की रिपोर्ट से लोगों में संतोष का भाव पैदा नहीं होना चाहिए. मई 2020 में हुए पहले सीरो सर्वेक्षण से पता चलता है कि कि कोरोनो वायरस संक्रमण का देशव्यापी प्रसार केवल 0.73% था. यहां तक कि जल्द ही जारी किए जाने वाले दूसरे सीरो सर्वेक्षण से संकेत मिलते हैं कि हम किसी भी प्रकार की हर्ड इम्युनिटी की क्षमता हासिल करने से बहुत दूर हैं. ऐसे में आवश्यक है कि हम सभी को कोविड दिशानिर्देशों (Covid Guidelines) के अनुसार उचित व्यवहार का पालन करते रहना चाहिए.'

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.