धर्मांतरण पर सबसे बड़ा खुलासा! निशाने पर ब्राह्मण लड़कियां, सुनें मौलाना कलीम का ऑडियो

धर्मांतरण मामले में गिरफ्तार मौलाना कलीम सिद्दीकी (Maulana Kaleem Siddiqui) का पाकिस्तान कनेक्शन सामने आया है. बताया जा रहा है कि कलीम सिद्दीकी के पाकिस्तान से संबंध थे और फंडिंग का भी पता चला है. इसके अलावा पाकिस्तान से तकनीकी सपोर्ट भी मिल रहा था.

धर्मांतरण पर सबसे बड़ा खुलासा! निशाने पर ब्राह्मण लड़कियां, सुनें मौलाना कलीम का ऑडियो
मौलाना कलीम सिद्दीकी का टारगेट पूरी धरती को मुसलमान बनाने का था.

लखनऊ: धर्मांतरण मामले में गिरफ्तार मौलाना कलीम सिद्दीकी (Maulana Kaleem Siddiqui) पर हो रहे खुलासे हैरान करने वाले हैं और अब पता चल रहा है कि मौलाना कलीम सिद्दीकी जिहादी सोच के हैं. इनका मानना है कि हर हिंदू को मुसलमान बन ही जाना चाहिए और अब इस मामले पाकिस्तान का कनेक्शन सामने आया है. बताया जा रहा है कि कलीम सिद्दीकी के पाकिस्तान से संबंध थे और फंडिंग का भी पता चला है. इसके अलावा पाकिस्तान से तकनीकी सपोर्ट भी मिल रहा था.

जिहादी हैं मौलाना कलीम सिद्दीकी

मौलाना कलीम सिद्दीकी (Maulana Kaleem Siddiqui) का बड़ा नाम है और इनकी मजहबी तकरीरों की तारीफें होती हैं. मुहब्बत तो चौबीसों घंटे इनके जुबान से टपकती है और काफी पढ़े लिखे भी बताए जाते हैं. कहते हैं मेरठ से बीएससी की डिग्री ली हुई है और उम्र यही कुछ 63-64 साल की हो चुकी है, लेकिन मौलाना कलीम सिद्दीकी जिहादी तबीयत के हैं. इनका मानना है कि हर दिन एक लाख 24 हजार लोग नरक की आग में जल जा रहे हैं. इनका कहना है कि मुसलमान बन जाओ और जन्नत पाओ.

 

5 लाख से ज्यादा अवैध धर्मांतरण

मौलाना कलीम सिद्दीकी (Maulana Kaleem Siddiqui) का टारगेट तो इनका पूरी धरती को मुसलमान बनाने का है, लेकिन भारत में अब तक 5 लाख से ज्यादा अवैध धर्मांतरण करा चुके हैं. धर्मांतरण के लिए कोई भी नियम कानून विधान संविधान की धज्जियां तक उड़ा सकते हैं.

विदेशी फंडिंग पाने के संगीन आरोप

यूपी एटीएस ने अवैध धर्मांतरण केस के सिलसिले में मुजफ्फरनगर के मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार किया है. कलीम सिद्दीकी को मेरठ के लिसाडीगेट थाना इलाके से गिरफ्तार किया गया. जमीयत-ए-वलीउल्लाह और ग्लोबल पीस सेंटर के प्रेसिडेंट कलीम सिद्दीकी पर अवैध धर्मांतरण रैकेट चलाने और हवाला से विदेशी फंडिंग पाने के संगीन आरोप हैं. मौलाना पर हवाला के जरिए 3 करोड़ रुपये अवैध फंडिंग लाने का खुलासा हुआ है, जिसमें डेढ़ करोड़ तो बहरीन से लाए गए हैं और बाकी की जांच जारी है.

VIDEO-

ये भी पढ़ें- कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खोला मोर्चा, प्रियंका और राहुल गांधी के खिलाफ खुलकर आए सामने

ऐसे खुली मौलाना कलीम सिद्दीकी की कुंडली

ये सिर्फ फंडिंग से ही धर्मांतरण जिहाद नहीं लड़ रहे थे. ये अपनी मौलाना तरीन तबीयत का इस्तेमाल लोगों को डराने धमकाने, लालच देने और जन्नत-दोजख का मर्म समझाने में भी करते थे. मौलाना कलीम सिद्दीकी के दर्जनों वीडियो ऐसे मिल जाएंगे, जिसमें ये अपनी चिकनी चुपड़ी ज़ुबान से हिंदुओं को मुसलमान बनाने की जिहादी कोशिश करते दिख जाएंगे. लेकिन इनके गुनाहों की कुंडली तब खुलनी शुरू हुई जब दवाह सेंटर वाले उमर गौतम ने इनका कच्चा चिट्ठा खोला.

20 जून को पकड़े गए उमर गौतम ने पूछताछ में कलीम सिद्दीकी का नाम लिया था. सूत्रों के मुताबिक पूछताछ के दौरान उमर गौतम ने ही बताया था कि अवैध धर्मांतरण के लिए फंडिंग का काम कलाम सिद्दीकी भी करता है. उमर गौतम के दावे के मुताबिक कलीम सिद्दीकी ने अब तक 5 लाख से ज्यादा लोगों का धर्मांतरण कर डाला है. कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी से पहले यूपीए एटीएस जब उमर गौतम के गुनाहों के सबूत इकट्ठा करने लगी तो पता चला था कि दिव्यांगों, गरीब-लाचारों, लड़कियों का अवैध धर्मांतरण कराने वाले इस रैकेट को 57 करोड़ रुपये से अधिक की अवैध फंडिंग की गई थी.और वो पैसे कहां खर्च हुए उसका कोई हिसाब नहीं था, जिसके बाद 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया. 6 आरोपियों के खिलाफ तो चार्जशीट भी हो चुकी है. 4 आरोपियों की जांच अभी जारी है. अब ये पांचवां मौलाना एटीएस के हत्थे चढ़ा है.

लाइव टीवी

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.