Breaking News
  • गुजरात के दो कांग्रेसी विधायकों ने राज्य की चार सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव से पहले इस्तीफा दिया
  • इस तरह गुजरात में कांग्रेस के सात विधायक अब तक इस्‍तीफा दे चुके हैं

'अब तो आपके हाथ वक्त बेवक्त उठने लगे हैं', IAS की कविता सोशल मीडिया पर हो रही वायरल

दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की मुख्यमंत्री आवास पर 'आप' पार्टी विधायकों द्वारा पिटाई के मामले को लेकर आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन में खासी नाराजगी है. इसी को लेकर असम कैडर के 1999 बैच के आईएएस आशु अग्निहोत्री ने फेसबुक पर आप पार्टी और अरविंद केजरीवाल की आलोचना करते हुए एक कविता लिखी है.

'अब तो आपके हाथ वक्त बेवक्त उठने लगे हैं', IAS की कविता सोशल मीडिया पर हो रही वायरल
व्हॉस्टएप पर भी शेयर हो रही आईएएस आशु अग्निहोत्री की कविता (फोटो@AshuAgnihotri)

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की मुख्यमंत्री आवास पर 'आप' पार्टी विधायकों द्वारा पिटाई के मामले को लेकर आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन में खासी नाराजगी है. इसी को लेकर असम कैडर के 1999 बैच के आईएएस आशु अग्निहोत्री ने फेसबुक पर आप पार्टी और अरविंद केजरीवाल की आलोचना करते हुए एक कविता लिखी है. इसमें उन्होंने मारपीट की घटना से आईएएस अधिकारियों के आत्मसम्मान को पहुंची चोट और सत्ता में आने के बाद आप पार्टी के बर्ताव में आए बदलाव के बारे में जिक्र करते हुए तंज कसा गया है. कविता की आखिरी पंक्तियों में मारपीट की घटना से 'आप' पर से विश्वास टूटने की बात भी कही गई. इस कविता को पहले आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन के फेसबुक पेज पर शेयर किया गया, जिसके बाद ये व्हॉट्सएप पर भी आ गई और तेजी से शेयर होने लगी.

मुख्‍य सचिव को लगी चोटों पर आप नेताओं का बयान- 'हो सकता है वो बाथरूम में गिर गए हों?'

पढ़े- आईएएस अधिकारी की कविता

‘अब तो आपके हाथ वक्त बेवक्त उठने लगे हैं’

पहले उठते थे आपके हाथ 
किसी संकल्प में 
एक सपने, एक विश्वास को 
साकार करने को 
फिर जब उन्हीं हाथों में 
आई बागडोर 
दिशा और गति देने की 
आपके हाथ अपनी ही 
अक्षमता और अनुभवहीनता 
से कांपने लगे 
आपको लगने लगा कि रथ हांकने से 
कहीं सहज, कहीं सरल है 
सिर्फ हांकना! 
हाथ का इस्तेमाल 
सिर्फ गलतियां गिनाने 
के लिए करना 
ज्यादा आसान है. 
तब तक भी ठीक था 
मगर अब तो आपके हाथ 
वक्त बेवक्त 
उठने लगे हैं 
जिसके भद्दे छापे दिखते हैं 
हमारे आत्मसम्मान पर! 
माफ कीजिएगा...
उस रात, भीहड़ में 
जहां आपकी खामोश मुस्कान 
की आड़ में 
कुछ पंजे हमारे चेहरे पर 
घाव कर रहे थे 
हमारी आंखों से तो सिर्फ 
उतरा था चश्मा 
मगर उस जगह और भी 
बहुत कुछ था गिरा 
हमने तो उठा भी लिया अपना चश्मा 
मगर आप नहीं उठा पाएंगे 
बिखरे हुए विश्वास को 
नहीं उठा पाएंगे 
अपने आपको!

जिस कमरे में मुख्य सचिव को पीटा गया, वह केजरीवाल की गुफा- कपिल मिश्रा का ट्वीट

ये है मामला
दरअसल, 19 फरवरी की देर रात सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास पर एक बैठक के दौरान दिल्ली मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ आप विधायकों ने मारपीट की थी. इस दौरान सीएम केजरीवाल भी वहीं मौजूद थे. बात में इस मामले में एफआईआर दर्ज करवाई गई. जिसके बाद कोर्ट ने 22 फरवरी को अमानतुल्ला खां और प्रकाश जारवाल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. देवली से विधायक जारवाल को मंगलवार (20 फरवरी) की रात को गिरफ्तार किया गया था, वहीं अमानतुल्ला को बुधवार (21 फरवरी) शाम को हिरासत में लिया गया था.