अजमेर शरीफ के 807 वें उर्स में आज छठी शरीफ की रस्म अदा की गई

दरगाह के आहता नूर परिसर में खादिमों की तरफ से ज़ायरीन की खुशहाली की दुआ की गई. वहीं गरीब नवाज सेवा समिति के की जानिब से ज़ायरीन के लिए लंगर तक़सीम किया गया. 

अजमेर शरीफ के 807 वें उर्स में आज छठी शरीफ की रस्म अदा की गई
अजमेर दरगाह में आज का दिन बेहद अहमियत रखता है.

अजमेर: अजमेर शरीफ दरगाह में गुरूवार को छठी शरीफ की रस्म अदा की गई. हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में आज भारी संख्या में छटी की फातेहा में ज़ायरीन शरीक हुए. देश भर से पहुंचे सभी धर्म के अकीदतमंदों ने ख्वाजा साहब के मजार पर हाज़री दी और फातेहा में शिरकत की. 

दरगाह के आहता नूर परिसर में खादिमों की तरफ से ज़ायरीन की खुशहाली की दुआ की गई. वहीं गरीब नवाज सेवा समिति के की जानिब से ज़ायरीन के लिए लंगर तक़सीम किया गया. समिति के सचिव कुतबूद्दीन सखी ने बताया कि आज हज़रत ख्वाजा गरीब नवाज के 807वे उर्स के मौके पर अंजुमन खुद्दाम ऐ ख्वाजा की जानिब से कुल की रस्म से पहले चादर पेश की गई और महफील का आयोजन आहता नूर परिसर में किया गया. 

अजमेर दरगाह में आज का दिन बेहद अहमियत रखता है. यही वजह है कि 6 रजब आज ही के दिन ख्वाजा साहब के उर्स के कुल की रस्म अदा की जाती है. छटी शरीफ की फातेहा में भारी संख्या में ज़ायरीन शरीक हुए थे. जहा अंजुमन खुद्दामे ख्वाजा की तरफ से गरीब नवाज़ के सिलसिले का शिजरा भी पढ़ा गया और देश मे अमन शांति की भी दुआ मांगी गई.