अलवर का यह गांव बना सेक्सटॉर्शन का अड्डा, Whatsapp पर आता 'हाय! आई एम पूजा' का मैसेज, फिर शुरू होता गंदा खेल
topStories1rajasthan1459745

अलवर का यह गांव बना सेक्सटॉर्शन का अड्डा, Whatsapp पर आता 'हाय! आई एम पूजा' का मैसेज, फिर शुरू होता गंदा खेल

Alwar News: राजस्थान के अलवर जिले के गोथरी गुरु गांव से सेक्सटॉर्शन रैकेट मास्टरमाइंड पकड़ा गया. इस गांव के काफी लोग सेक्सटॉर्शन में फंसा कर ब्लैक मेलिंग के जरिए वसूली करते हैं. 

अलवर का यह गांव बना सेक्सटॉर्शन का अड्डा, Whatsapp पर आता 'हाय! आई एम पूजा' का मैसेज, फिर शुरू होता गंदा खेल

Alwar News: महाराष्ट्र की पुणे पुलिस ने राजस्थान के अलवर जिले से संचालित बड़े सेक्सटॉर्शन रैकेट का भंडाफोड़ किया है. पुलिस का दावा है कि लक्ष्मणगढ़ स्थित गुरु गोठड़ी गांव के काफी लोग सेक्सटॉर्शन में फंसा कर ब्लैक मेलिंग के जरिए वसूली करते हैं, इसमे पुरुषों के साथ महिलाएं भी शामिल हैं. 

अलवर का मेवात क्षेत्र साइबर ठगी और सेक्सटॉर्शन के मामले सुर्खियों में चल रहे हैं. अलवर पुलिस भले ही साइबर अपराध पर लगाम लगाने के लिए लगातार प्रयासरत रही हो, लेकिन फिर भी इन पर अंकुश नही लगाया जा पा रहा है. अलवर जिले में अनेको गांव ऐसे हैं, जहां सैकड़ों युवा इसी धंधे में लिप्त हैं, कम पढ़े-लिखे होने के बावजूद यह देश भर में रोजाना किसी न किसी को अपने जाल में फंसा ही लेते हैं.

हाय, आई एम पूजा का मैसेज 
साइबर क्राइम में इन दिनों सेक्सटॉर्शन के मामले सबसे ज्यादा सामने आ रहे हैं, जिसमे किसी अननोन नंबर से पहले हाय, आई एम पूजा या कोई भी लड़की का नाम लिख कर वाट्सऐप पर संपर्क किया जाता है. फिर धीरे-धीरे दोस्ती कर कुछ अश्लील सामग्री पोस्ट कर सामने वाले को न्यूड वीडियो के लिए तैयार किया जाता है, जब सामने वाला वाट्सऐप कॉल करता है, तो उधर से न्यूड लड़की नजर आती है.

बस इसी समय स्क्रीन रिकॉर्ड कर ब्लैकमेलिंग का खेल फिर शुरू हो जाता है. उसके बाद बदमाशों द्वारा उसी नंबर पर कॉल कर उसे धमकाया जाता है कि तुम्हारी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी जाएगी, इस खाते में पैसे ट्रांसफर करवा दो या पेटीएम करने को कहा जाता है.  मजबूर होकर बदनामी के डर से पीड़ित अपनी बात न तो घर पर बता पाता है, न पुलिस में कंप्लेंट करा पाता है, ऐसे में कई बार पीड़ित आत्महत्या तक कर लेते हैं. 

अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी
ऐसा ही एक मामला हाल ही में सामने आया, वसूली से परेशान और बदनामी से बचने के पुणे के दत्तावाड़ी में एक युवक ने दसवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. पुणे के दत्तावाड़ी के शांतनु वाडकर, अमोल गायकवाड ने खुदकुशी कर ली थी. दोनों मामलों के तार अलवर के लक्ष्मणगढ़ के गुरु गोठड़ी गांव से जुड़े थे. पुलिस ने जब मृतक की फोन कॉल डिटेल निकाली दोनों ही युवकों के पास अलवर जिले के लक्ष्मणगढ़ के गुरु गोठड़ी से फोन आए थे. युवकों का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर आरोपी उनसे पैसे ऐठ रहे थे. पुणे की दत्तावाडी पुलिस ने अलवर पुलिस की मदद से 18 नवंबर को लक्ष्मणगढ़ के गुरु गोठड़ी गांव में दबिश देकर एक मुख्य आरोपी 29 वर्षीय अनवर सुभान खान को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई. 

यू फंसाया जाता सेक्सटॉर्शन के जाल में
सेक्सटॉर्शन गिरोह से जुड़े बदमाश लोगों को नौकरी लगाने, दोस्ती करने या अश्लील बातें करने आदि का झांसा देकर फेसबुक मैसेंजर या वाट्सऐप पर लिंक भेजते हैं, जैसे ही व्यक्ति लिंक को क्लिक करता है तो वीडियो कॉल शुरू हो जाती है और उस पर नग्न अवस्था में लड़की का वीडियो आ जाता है. इसके बाद शातिर ठग तुरंत इस कॉलिंग का स्क्रीनशॉट लेते हैं, फिर संबंधित व्यक्ति के फेसबुक मैसेंजर या वाट्सऐप पर उस स्क्रीनशॉट को भेजकर ब्लैकमेल करते हैं. उनके फोन पर गूगल पर या पेटीएम अकाउंट से रुपये ट्रांसफर करने की कहते हैं. रुपये ट्रांसफर नहीं करने पर व्यक्ति की अश्लील वीडियो कॉलिंग का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देते हैं. 

सेक्सटॉर्शन में फंसाने के बाद एक मोबाइल से वीडियो कॉल करते हैं. कॉल अटेंड करते ही दूसरे नंबर से महिलाओं का नग्न वीडियो चालू कर देते हैं. इस दौरान बदमाश दो मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं. दूसरे मोबाइल को इस तरह से रखते हैं कि सामने वाले व्यक्ति को ऐसा लगे कि कोई महिला न्यूड कॉलिंग कर रही है. शातिर ठग तुरंत उसका स्क्रीनशॉट लेते हैं.

मेवात के कई गांव में चल रहे हैं रैकेट
राजस्थान के अलवर और भरतपुर सहित हरियाणा के मेवात क्षेत्र में दर्जनों गांव में सेक्सटॉर्शन के रैकेट चल रहे हैं. अलवर जिले में लक्ष्मणगढ़ के गुरु गोठड़ी , नांगल टप्पा , रामगढ़ , नौगावां , बड़ौदामेंव , किशनगढ़ बास , तिजारा , टपूकड़ा आदि के कई गांव में शातिर ठग बैठे हैं, जो कि लोगों को अपना सेक्सटॉर्शन के जाल में फंसाते रहते हैं. 

ग्रुप में लड़कियां भी हैं शामिल
पुणे पुलिस को आरोपी ने पूछताछ में यह चौंकाने वाला खुलासा किया है कि रैकेट में शामिल गैंग के लोग सोशल मीडिया पर अलग-अलग अकाउंट से संपर्क करते हैं. इसके बाद लड़कियां वीडियो कॉल कर लोगों को फंसाती हैं. फोटो, वीडियो की रिकॉर्डिंग कर आपत्तिजनक कटेंट तैयार करते हैं. पीड़ित की वीडियो हाथ लगने के बाद वीडियो फोटो वायरल करने की धमकी दे आरोपी लोगों से पैसे एठते हैं. 

इसी तरह पुणे के दत्तावाड़ी के रहने वाले एक युवक ने 28 सितंबर को दसवीं मंजिल से कूदकर जान दे दी थी. इस युवक को भी एक महिला ने अपने जाल में फंसाया फिर नग्न अवस्था मे युवक को कॉल कर उसे उकसाया गया और लड़के के भी कपड़े उतरवा लिए, जिसका वीडियो बदमाशों रिकॉर्ड कर लिया और उसे ब्लैकमेल किया जा रहा था. 

Trending news