राजस्थान: बीसलपुर बांध बन सकता है टूरिज्म प्लेस, सरकार ने लटका रखा है ये सपना

टोंक जिले में स्थित बीसलपुर बांध को डेवलप करने के लिए पर्यटन विभाग की ओर से की गई कवायद सरकार बदलने के बाद फाइलों में दब गई. सरकार का मानना था कि यहां पर्यटन के लिए अच्छी संभावनाएं हैं.

राजस्थान: बीसलपुर बांध बन सकता है टूरिज्म प्लेस, सरकार ने लटका रखा है ये सपना
बीसलपुर बांध में स्थित टापू को विकसित करने के लिए कलेक्टर को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए गए थे.

जयपुर: बीसलपुर बांध टूरिज्म प्लेस बन सकता है. पिंकसिटी आने वाले पर्यटकों को बीसलपुर तक लाया जाए, इसके लिए पिछली सरकार में काम शुरू हुआ. पर्यटन विभाग ने इसको डेवलप करने के लिए अपना रोडमैप तैयार किया था. सरकार की ओर से इसके लिए 5 करोड़ की स्वीकृति भी जारी की गई थी, लेकिन सरकार बदलते ही बीसलपुर को टूरिज्म स्पॉट बनाने के सपने दब गए. 

टोंक जिले में स्थित बीसलपुर बांध को डेवलप करने के लिए पर्यटन विभाग की ओर से की गई कवायद सरकार बदलने के बाद फाइलों में दब गई. सरकार का मानना था कि यहां पर्यटन के लिए अच्छी संभावनाएं हैं. बीसलपुर बांध पर्यटकों के लिए अच्छी जगह है लेकिन बांध के अंदर बने टापू और यहां बसी बस्तियों में कुछ डेवलपमेंट कर इसे विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित कर सकते हैं. 

इस तरह बनाया था प्रपोजल
- बीसलपुर को बनाया जाए आकर्षक पर्यटक स्थल.
- इसके लिए एक सामूहिक बैठक रखने का निर्णय लिया गया.
- इसमें सचिव पर्यटन, सचिव जल संसाधन, मुख्य अभियंता जल संसाधन जयपुर, अधीक्षण अभियंता जल संसाधन बीसलपुर, कलक्टर टोंक शामिल हो.
- इसके लिए भूमि के रूपांतरण के लिए निर्णय लिया जा सके और एनओसी जारी हो सके.
- बीसलपुर बांध में स्थित टापू को विकसित करने के लिए कलेक्टर को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए गए थे.
- बीसलपुर के बाएं छोर पर बसी कॉलोनी जो जल संसाधन विभाग के नाम है.
- उसमें से उपयोग में आने वाली भूमि पर्यटन विभाग नाम हस्तांतरित की जाए.
- इससे वहां पर्यटकों के लिए आधारभूत सुविधाओं का विकास हो सके.
- बांध के अंदर स्थित दीप पर भी पर्यटक सुविधा विकसित कर संचालन के लिए पर्यटन विभाग को एनओसी दी जाए.
- बांध के अंदर दीप पर एक कैफेटेरिया, जेटी, लैंडस्पेकिंग, पाथ वे, बर्ड वाचिंग टावर बनाने के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए थे.
- बीसलपुर बांध में क्रूज संचालन और वोटिंग कराने की स्वीकृति प्राप्त की जाए ताकि पर्यटक पानी में बोटिंग कर सके.

बीसलपुर बांध को पर्यटकों के लिए डेवलप करने के लिए सरकार काम करती है तो यहां लोगों के लिए रोजगार के द्वार भी खुलेंगे. इसके साथ ही यहां के आसपास अन्य पौराणिक स्थान भी टूरिस्टों को आकर्षित कर सकते हैं.