close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मकर संक्रांति: नए साल में सूर्य ने किया मकर राशि में प्रवेश, मलमास हुआ समाप्त

14 जनवरी को शाम 7 बजकर 52 मिनट पर मकर राशि में सूर्य का प्रवेश होते ही मलमास खत्म हो जाएगा.

मकर संक्रांति: नए साल में सूर्य ने किया मकर राशि में प्रवेश, मलमास हुआ समाप्त
मकर राशि में सूर्य का प्रवेश होते ही मलमास खत्म हो जाएगा. (फाइल फोटो)

जयपुर: नए साल में सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही मलमास समाप्त हो जाएगा. इसके साथ ही राज्य के कई भागों में मांगलिक कार्य शुरू हो जाएंगे. एक महीने से चल रहा मलमास सोमवार(14 जनवरी) की शाम से खत्म हो जाएगा. वहीं अगले दिन पौषशुक्ल पक्ष नवमीं से मांगलिक कार्यों के साथ शादियों की शहनाइयां भी गूंजनी शुरू हो जाएगी.

बंशीधर पंचाग के निर्माता पंडित दामोदर प्रसाद शर्मा ने बताया कि 14 जनवरी को शाम 7 बजकर 52 मिनट पर मकर राशि में सूर्य का प्रवेश होते ही मलमास खत्म हो जाएगा. 15 जनवरी की बात की जाए तो पहला सावा आठ रेखीय सावा है, जो कि बेहद सर्वश्रेष्ठ माना जा रहा है. 

पंडितों के अनुसार 10 फरवरी को बसंत पंचमी और 8 मार्च को फुलेरा दूज पर अबूझ सावा रहेगा. इसके बाद 14 मार्च से होलाष्टक और 15 मार्च से मीन का मलमास लग जाएगा. इससे एक माह तक कोई भी मांगलिक कार्य नहीं हो सकेंगे. वहीं 12 जुलाई को देवशयन के बाद 4 माह तक शुभ और मांगलिक कार्य नहीं हो सकेंगे. इसके बाद 8 नवंबर को देव प्रबोधिनी एकादशी से फिर से शहनाइयां बजेंगी. परंपरा अनुसार वर और कन्या के गुरु, सूर्य तथा चंद्र बल के विचार में कोई भी अनुकूलता और शुभ मुहूर्त न होने पर स्वयंसिद्ध अबूझ मुहूर्त ग्रहण कर लेना चाहिए. 

शादियों का लिए जमकर हो रही है खरीददारी 

जयपुर के बाजार में इन दिनों शादियों की खरीददारी परवान पर है. शहर के लालजी सांड का रास्ता, जौहरी बाजार, त्रिपोलिया में रात तक लोगों की ज्वैलरी, कपड़े सहित अन्य सामानों को खरीदने की भीड़ नजर आ रही है. शहर के बैंड बाजे वाले भी नए साल में कई नई धुनों की तैयारियों को अंतिम रूप दे रहे हैं. 

इसके अलावा परकोटे के कई बाजारों में दुकानदार छोटे से लेकर बड़े सामान जैसे एसी, फ्रिज, वाशिंग मशीन सहित अन्य उत्पादों के ग्राहकों को पैकेज मुहैया करवा रहे हैं. इसके साथ ही कपड़े और अन्य शादी समारोह में लेन देन की वस्तुएं भी पैकेज में उपलब्ध करवा रहे हैं. कपड़ों आदि में राजस्थानी, गुजराती परिधान सहित कुर्ता पायजामा, लहंगे ग्राहक ज्यादा खरीदना पसंद कर रहे हैं.