कोई भी गरीब भूखा न सोए: Corona काल में गरीबों को भोजन बांट रही NSUI, दिन-रात डटे नेता

एनएसयूआई के प्रदेश प्रवक्ता रमेश भाटी (Ramesh Bhati) ने बताया कि पिछले 1 महीने से लगातार जरूरतमंद लोगों को भोजन वितरण किया जा रहा है. 

कोई भी गरीब भूखा न सोए: Corona काल में गरीबों को भोजन बांट रही NSUI, दिन-रात डटे नेता
सुबह और शाम भोजन के पैकेट का वितरण करने के लिए छात्र नेता और प्रदेश पदाधिकारी पहुंच रहे हैं.

Jaipur: कोरोना (Corona) के बढ़ते प्रकोप के चलते अब गरीब और असहाय लोगों के सामने खाने की एक विकट समस्या खड़ी होती जा रही है और प्रदेश में कोई भी गरीब भूखा न सोए, इसी उद्देश्य से छात्र संगठन एनएसयूआई लगातार पिछले 1 महीने से जनहित के कार्य में जुटा हुआ है.

यह भी पढ़ें- Jaipur : NSUI की एंबुलेंस सेवा का शुभारंभ, जल्द ही सभी बड़े जिलों में होगी शुरू

छात्र संगठन एनएसयूआई की ओर से पिछले 1 महीने से प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में कच्ची बस्तियों और गरीब तबके के लोगों को निशुल्क भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है. राजधानी जयपुर में भी एनएसयूआई की ओर से पिछले 1 महीने से छात्र रसोई का संचालन किया जा रहा है, जिसके तहत प्रतिदिन एक हजार भोजन के पैकेट सुबह और शाम वितरित किए जा रहे हैं. छात्र रसोई में एनएसयूआई के छात्र नेता और कार्यकर्ता दिन-रात डटे हुए हैं. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan से Delhi गए NSUI के 10 सदस्य, गरीबों के लिए कर रहे भोजन की व्यवस्था

जयपुर के विभिन्न अस्पतालों और कच्ची बस्तियों में सुबह और शाम भोजन के पैकेट का वितरण करने के लिए छात्र नेता और प्रदेश पदाधिकारी पहुंच रहे हैं. प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक चौधरी (Abhishek Chaudhary) के नेतृत्व में जयपुर समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में छात्र रसोई के माध्यम से एनएसयूआई के कार्यकर्ता जरूरतमंदों को भोजन पैकेट, सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध करवा रहे हैं. 

क्या कहना है एनएसयूआई के प्रदेश प्रवक्ता का
एनएसयूआई के प्रदेश प्रवक्ता रमेश भाटी (Ramesh Bhati) ने बताया कि पिछले 1 महीने से लगातार जरूरतमंद लोगों को भोजन वितरण किया जा रहा है. इसके साथ ही जिन लोगों को रक्त, प्लाज्मा की आवश्यकता पड़ रही है, उन तक भी हर संभव मदद पहुंचाई जा रही है. 

इसके साथ ही एनएसयूआई के कार्यकर्ता लगातार जनहित के कार्यों में लगे हुए हैं, जिसके तहत अस्पतालों में जाकर सेवाएं भी दी जा रही हैं. इसके साथ ही एनएसयूआई की ओर से पूरे प्रदेश में 10 लाख मास्क और सैनिटाइजर वितरण अभियान भी चलाया जा रहा है.