Rajasthan में आ रहे हैं 28000 से ज्यादा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, जानें किस जिले को कितने मिलेंगे

राजस्थान में कोरोना संक्रमितों (Coronavirus) को सरकार की तरफ से ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की हरसंभव कोशिश की जा रही है.

Rajasthan में आ रहे हैं 28000 से ज्यादा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, जानें किस जिले को कितने मिलेंगे
जिलों में भेजे जाएंगे 3 हजार 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

Jaipur : राजस्थान में कोरोना संक्रमितों (Coronavirus) को सरकार की तरफ से ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की हरसंभव कोशिश की जा रही है. प्रदेश में ऑक्सीजन उत्पादन प्लांट लगाने के अलावा 28 हजार 645 को कार्यादेश जारी कर दिए हैं. स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि मई के अंत तक कई देशों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्रदेश को मिल जाएंगे.

चिकित्सा मंत्री ने बताया है कि विदेशों से मंगाए जा रहे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की पहली खेप के रुप में रूस से 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (Oxygen Concentrators) जयपुर पहुंच गए हैं. उन्होंने बताया कि रुस से 1250 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगाए जा रहे हैं. शेष ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 9, 14 और 16 मई को रुस से आने वाली फ्लाइट से आ रहे हैं . 

यह भी पढ़ें- Rajasthan Corona Update: राज्य में फिर बढ़े संक्रमित, 24 घंटे में आए नए 18,231 मरीज

कोरोना महामारी के चलते चिकित्सालयों में आक्सीजन सिलेण्डरों की देशव्यापी कमी के बावजूद राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने अग्रगामी कदम उठाते हुए सीधे विदेशों से संपर्क साध कर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगाने की व्यवस्था की है. राज्य सरकार ने 30 अप्रैल को अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस एवं पेट्रोलियम डॉ. सुबोध अग्रवाल के नेतृत्व में प्रीतम वी. यशवंत और टीना डाबी की समिति गठित की. 

डॉ. सुबोध अग्रवाल की कमेटी ने बहुत कम समय में ही 13 देशों की 62 कंपनियों से समन्वय स्थापित किया और करीब एक सप्ताह में ही रुस से पहली खेप के रुप में 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्राप्त हुए हैं. उन्होंने बताया कि चीन से 1900 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 15 से 25 मई के बीच और चीन से ही 5 हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 25 मई को प्राप्त हो जाएंगे. इस तरह रुस और चीन से ही 8 हजार 150 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 25 मई तक जयपुर आ जाएंगे. रूस में भारत के राष्ट्रदूत वेंकटेश्वर वर्मा ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भारत पहुंचाने में खासी मदद की. 

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि दुबई व अन्य देशों से आयातित असेम्बल कर उपलब्ध कराने के 15 हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के प्रस्तावों का कमेटी द्वारा परीक्षण किया जा रहा है. साथ ही मेडिकल शिक्षा विभाग द्वारा 2 हजार495 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के आदेश जारी किए जा चुके हैं जिनमें से 125 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर वितरित कर दिए गए हैं और 2 हजार 370 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 15 मई तक प्राप्त होने की संभावना है. स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग द्वारा 8 हजार ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रटर के आदेश दिए जा चुके हैं जिनकी आपूर्ति जल्द शुरु हो जाएगी. 

राजस्थान फाउंडेशन की मदद
डॉ. शर्मा ने बताया कि राज्य में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की उपलब्धता बनाए रखने के राजस्थान फाउंडेशन के प्रयास भी रंग लाए हैं. उन्होंने बताया कि दुबई से राजस्थान निवासी द्वारा एक हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर निशुल्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं. इनमेें से 250 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 10 मई तक जयपुर पहुंचने की संभावना है. इसी तरह से एक चेरिटेबल संस्था ने 2 हजार 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर निशुल्क उपलब्ध कराने की सहमति दी है. 

इनमें से 450 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 10 मई तक जयपुर पहुंच जाएंगे. इस तरह से 3 हजार 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दानदाताओं द्वारा निःशुल्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं. इसके साथ ही राज्य में विभिन्न जिलों में करीब 919 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध है और लगभग 2 हजार 970 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर स्थानीय स्तर पर उपलब्ध हो रहे हैं.

जिलों में भेजे जाएंगे 3 हजार 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 
डॉ. शर्मा (Dr Raghu Sharma) ने बताया कि जिलों में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए करीब 3 हजार 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जिला अस्पतालों में भेजे जाएंगे. उन्होंने बताया कि अजमेर में 608, अलवर में 5, बांसवाड़ा में 10, बारां में 112, बाड़मेर में 300, भरतपुर में 111, भीलवाड़ा में 50, बीकानेर में 201, बूंदी में 130, चित्तौड़गढ़ में 4, चूरू में 200, दौसा में 9, धौलपुर में 116, डूंगरपुर में 50 और हनुमानगढ़ में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेजे जाएंगे. 

उन्होंने बताया कि इसी तरह जयपुर में 185, जैसलमेर में 25, झालावाड़ में 16, जोधपुर में 635, करौली में 20, कोटा में 100, नागौर में 124, पाली में 260, राजसमंद में 45, सीकर में 75 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर भिजवाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें- Corona मरीजों के लिए अस्पताल में हो रहा 'रामायण का पाठ', PPE किट पहनकर आता है पंडित