Rajasthan को केंद्र से Covid मदद दिलाने में लोकसभा स्पीकर Om Birla ने संभाला मोर्चा

राजस्थान के तीनों मंत्री कल सबसे पहले ओम बिरला से ही मिले थे. ओम बिरला ने न केवल तीनों मंत्रियों से व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात की उनकी बात को सुना.

Rajasthan को केंद्र से Covid मदद दिलाने में लोकसभा स्पीकर Om Birla ने संभाला मोर्चा
लोकसभा अध्यक्ष के ही प्रयासों का नतीजा था कि राजस्थान के मंत्रियों ने कहा है कि बातचीत सकारात्मक रही है.

Jaipur: कोरोना (Corona) की महामारी के बीच संसाधनों की मांग को लेकर केंद्र और राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) के बीच चल रही बयानबाजी की जंग में लोक सभा स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) ने सुलह की बड़ी भूमिका निभाई है. 

यह भी पढ़ें- कोरोना की स्थिति पर CM गहलोत बोले-जनता सहयोग नहीं करेगी तो उठाएंगे कड़े कदम

यह लोक सभा स्पीकर ओम बिरला के प्रयासों का ही नतीजा था कि बिना समय लिए दिल्ली (Delhi) पहुंचा राजस्थान (Rajasthan) के तीन मंत्रियों का समूह केंद्र के गृह मंत्री सहित अन्य मंत्रियों से वर्चुअल बैठक कर पाया. तीनों मंत्रियों ने सबसे पहले लोकसभा अध्यक्ष से मुलाकात की थी. लोकसभा अध्यक्ष के ही प्रयासों का नतीजा था कि राजस्थान के मंत्रियों ने कहा है कि बातचीत सकारात्मक रही है.

यह भी पढ़ें- Corona Control के लिए गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, ब्यूरोक्रेसी को मैदान में उतारा

राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मरीजों और मौत के आंकड़ों के बीच ऑक्सीजन (Oxygen) और दवाइयों की कमी को दूर करने की मांग को लेकर राजस्थान के तीन मंत्री दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. तीनों मंत्रियों का समूह केंद्र सरकार बातचीत कर रहा हैं. राजस्थान की कांग्रेस सरकार (Congress Government) और भाजपा की केंद्र सरकार के नेताओं की बयानबाजी और ट्विटर वॉर से उपजी तल्ख़ियों के बीच लोक सभा स्पीकर ओम बिरला ने केंद्र और राज्य के बीच एक सेतु का काम किया है. 

केंद्र के मंत्रियों से राजस्थान के मंत्री समूह को मिला सकारात्मक जवाब 
राजस्थान के तीनों मंत्री कल सबसे पहले ओम बिरला से ही मिले थे. ओम बिरला ने न केवल तीनों मंत्रियों से व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात की उनकी बात को सुना बल्कि उनके सामने ही केंद्र सरकार के अन्य मंत्रियों अधिकारियों को फोन पर हर संभव मदद करने के लिए कहा. यह ओम बिरला के प्रयासों का ही नतीजा था कि गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और अन्य केंद्रीय मंत्रियों के साथ राजस्थान के मंत्री डॉक्टर बी डी कल्ला, डॉ. रघु शर्मा और शान्ति धारीवाल की वर्चुअल बैठक संभव हो पाई. लोक सभा स्पीकर से हुई बातचीत का ही नतीजा था कि वर्चुअल बैठक में केंद्र के मंत्रियों से राजस्थान के मंत्री समूह को सकारात्मक जवाब मिला. 

मंत्रिमंडल समूह की चर्चा सकारात्मक रही
कल शाम को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए तीनों मंत्रियों ने दिल्ली में हुई बातचीत के बारे में अवगत कराते हुए कहा बातचीत सकारात्मक रही है. मंत्रियों ने राजस्थान को लेकर किए गए प्रयासों के लिए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला का भी आभार व्यक्त किया. ओम बिरला ने कहा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी मेरी फोन पर बात हुई थी मैंने उनसे कहा था राजस्थान में ऑक्सीजन और दवाओं सहित किसी भी तरह की कमी नहीं हो, इसके लिए मैं पूरा प्रयास कर रहा हूं. 

राजस्थान में ज्यादा हैं संक्रमित 
कल रात को मुख्यमंत्री आवास पर हुई बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मेरी बात हुई है, लोकसभा स्पीकर से भी बात हुई है. मंत्रिमंडल समूह की चर्चा सकारात्मक रही है. उम्मीद है कि केंद्र अब ऑक्सीजन के साथ राज्यों को टैंकर भी उपलब्ध कराएगा. रेमडीसीवर सहित अन्य दवाइयों की भी कमी दूर हो सकेगी. राजस्थान में संक्रमित ज्यादा है. देश में राजस्थान छठे स्थान पर है और उसी के हिसाब से हमें यह सब उपलब्ध होना चाहिए. 

अगर समय पर यह नहीं हुआ तो राजस्थान के लोग तकलीफ में आ जाएंगे. ऐसे में अब उम्मीद की जानी चाहिए कि लोकसभा स्पीकर ओम बिरला के प्रयासों से केंद्र सरकार और राज्य के बीच की राजनीतिक नाराजगी दूर हो पाएगी राज्य जो मांग कर रहा है उस जल सकारात्मक फैसला होगा और राजस्थान के लोगों को हर संभव मदद मिल पाएगी.