धारीवाल की बैठक में शामिल हुए जितेंद्र सिंह को गुर्जर समाज की धमकी, पायलट का नहीं किया समर्थन तो फूंक देंगे पुतला
topStoriesrajasthan

धारीवाल की बैठक में शामिल हुए जितेंद्र सिंह को गुर्जर समाज की धमकी, पायलट का नहीं किया समर्थन तो फूंक देंगे पुतला

Rajasthan Political Crisis : शांति धारीवाल की बैठक में शामिल हुए खेतड़ी विधायक जितेंद्र सिंह को गुर्जर समाज की ओर से चेतावनी दी गई है कि अगर सचिन पायलट का समर्थन नहीं किया तो सड़क पर उतर कर विरोध किया जाएगा और  पुतला फूंका जाएगा.

धारीवाल की बैठक में शामिल हुए जितेंद्र सिंह को गुर्जर समाज की धमकी, पायलट का नहीं किया समर्थन तो फूंक देंगे पुतला

Rajasthan Political Crisis : राजस्थान की सियासत में मचे घमासान के बीच खेतड़ी विधायक डॉ. जितेंद्र सिंह की ओर से शांति धारीवाल के घर बैठक में भाग लेने और त्याग पत्र देने की बात पर गुर्जर समाज के युवा आक्रोशित है. पूर्व उप प्रधान और जिला परिषद सदस्य अमर सिंह गुर्जर के नेतृत्व में कॉपर की गुर्जर धर्मशाला में बैठक कर विरोध प्रदर्शन किया और विधायक के खिलाफ नारेबाजी की.

पूर्व प्रधान ने बताया सीएम सलाहकार खेतड़ी में जब विधानसभा का चुनाव हुआ. तब सचिन पायलट के नाम पर वोट लेकर चुनाव जीते थे. अब जब सचिन पायलट को कांग्रेस आलाकमान मुख्यमंत्री बनाने के लिए रायशुमारी के लिए पर्यवेक्षक आए तो उनके खिलाफ जाकर शांति धारीवाल के घर बैठक में गए और इस्तीफा देने का भी नाटक किया. इससे खेतड़ी का गुर्जर समाज आक्रोशित है. इन्होंने समाज के नेता को मुख्यमंत्री बनने की राह में रोड़ा अटकाया है.

अशोक गहलोत पर जब पहली बार सोनिया गांधी ने जताया था भरोसा, सौंपी थी ये बड़ी जिम्मेदारी

आगे कहा कि जितेंद्र सिंह ने आलाकमान के साथ जाने का स्टेटमेंट दिया है. वह भी दिखावा है. उन्होंने विधायक को तीन दिन का अल्टीमेट देते हुए कहा या तो विधायक खुलकर सचिन पायलट के समर्थन में आए नहीं तो तीन दिन बाद पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा. प्रदर्शन करने वालों में रामनिवास डैला, प्रभु राजोता, सतीश जमालपुर, रविंद्र रवां, विकास बेसरड़ा, प्रदीप बांसियाल, सीताराम, विजू चनेजा, कैलाश कसाना, विकास अवाना, चंदगी, राकेश, विक्रम, अशोक व बंटी गोठड़ा सहित अनेक लोग मौजूद रहे.

गौरतलब है कि खेतड़ी विधायक डॉ जितेंद्र सिंह ने भी पाला बदलते हुए कहा कि मैं आलाकमान सोनिया गांधी के फ़ैसले के साथ हूँ. विधायकों के इस्तीफ़े देने के निर्णय मैं समर्थन नहीं करता हूं. आलाकमान जो फैसला करेगी वो मंजूर होगा.

 

Reporter- Sandeep Kedia

ये भी पढ़ें-

 सचिन पायलट की राह में रोड़ा है गहलोत कैंप की ये तिकड़ी, कांग्रेस आलाकमान को दे रहे हैं चुनौती

Trending news