close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में भी हड़ताल पर डॉक्टर्स, ओपीडी और इमरजेंसी सेवा प्रभावित होने से मरीज परेशान

डॉ. चौधरी ने बताया कि राज्य के सभी चिकित्सालयों में सुबह 8 बजे सभी चिकित्सक गेट मीटिंग कर गम्भीर रूप से घायल साथी चिकित्सक के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु प्रार्थना करेंगे.

राजस्थान में भी हड़ताल पर डॉक्टर्स, ओपीडी और इमरजेंसी सेवा प्रभावित होने से मरीज परेशान
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर: देश भर के चिकित्सालयों में चिकित्सकों के साथ बढ़ रही हिंसात्मक घटनाओं की सख्ती से रोकथाम और विशेषतः कोलकता के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुए भीड़ द्वारा चिकित्सको पर हमले के विरोध में सम्पूर्ण भारत मे आईएमए द्वारा 14 जून को काला दिवस मनाने का निर्णय किया गया है.

अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष ने इंडीयन मेडिकल एसोशियेशन के देश व्यापी “काला दिवस” के आह्वान को पूर्ण समर्थन देने की घोषणा की है और संघ चिकित्सकों पर बार बार हो रही इस प्रकार की हिंसात्मक घटनाओं और अत्याचारों का पुरजोर विरोध किया है.
 
डॉ. चौधरी ने कहा कि इस विरोध प्रदर्शन के दौरान राज्य के सभी सेवारत चिकित्सक अपने अपने कार्यस्थल पर काली पट्टी बांध कर कार्य करते हुए काला दिवस मनाएंगे और अपना विरोध प्रदर्शित करेंगे. डॉ. चौधरी ने बताया कि राज्य के सभी चिकित्सालयों में सुबह 8 बजे सभी चिकित्सक गेट मीटिंग कर गम्भीर रूप से घायल साथी चिकित्सक के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु प्रार्थना करेंगे.

संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. लक्षमन सिंह ओला ने बताया कि ओपीडी समय के पश्चात(12 बजे/ 2 बजे पश्चात) चिकित्सक व चिकित्सा संस्थान सुरक्षा की मांग को लेकर प्रत्येक जिला मुख्यालय पर प्रधानमंत्री के नाम जिला कलेक्टर के माध्यम से ज्ञापन दिया दिया जाएगा.