Ajmer Lok Sabha Election Results 2024: अजमेर से भागीरथ चौधरी एक बार फिर लहराएंगे जीत का परचम या रामचंद्र चौधरी मारेंगे बाजी?
Advertisement
trendingNow1/india/rajasthan/rajasthan2203491

Ajmer Lok Sabha Election Results 2024: अजमेर से भागीरथ चौधरी एक बार फिर लहराएंगे जीत का परचम या रामचंद्र चौधरी मारेंगे बाजी?

Ajmer Lok Sabha Chunav Result 2024 Rajasthan: अजमेर लोकसभा सीट पर चुनाव के नतीजे 4 जून को आएंगे. ऐसे में देखना होगा कि अजमेर से भागीरथ चौधरी एक बार फिर जीत का परचम लहरा पाएंगे या रामचंद्र चौधरी बाजी मारेंगे.

Ajmer Lok Sabha Election Results 2024

Ajmer Lok Sabha Election Results 2024: लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे 4 जून को सभी के सामने होंगे. अजमेर लोकसभा सीट की बात करें तो इस सीट पर बीजेपी ने भागीरथ चौधरी (Bhagirath Choudhary) का टिकट रिपीट किया. वहीं कांग्रेस ने इस सीट पर रामचंद्र चौधरी (Ramchandra Choudhary)को प्रत्याशी घोषित किया है. 2019 में  भागीरथ चौधरी की इस सीट पर जीत हुई थी. वर्तमान में भागीरथ चौधरी ही इस सीट से सांसद हैं.

2019 लोकसभा चुनाव की बात करें तो अजमेर सीट से  बीजेपी के  प्रत्याशी भागीरथ चौधरी ने कांग्रेस के रिज्जू झुनझुनवाला को हराया था. भागीरथ चौधरी ने  8,15,076 वोट जीत की. रिज्जू झुनझुनवाला को 2019 के लोकसभा चुनाव में 3,98,652 वोट मिले थे.

कौन हैं भागीरथ चौधरी

भागीरथ चौधरी वर्तमान में अजमेर से बीजेपी के सांसद हैं. इस बार बीजेपी ने उनका टिकट रिपीट किया है. भागीरथ चौधरी ने बीए पार्ट टू तक पढ़ाई की है.

पहली बार चौधरी किशनगढ़ से 2003 में विधानसभा लड़े. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के नाथूराम सिनोदिया को हराया और पहली बार विधायक बने.भागीरथ चौधरी जाट समाज का एक बड़ा चेहरा है. चर्चा है कि जातिगत आंकड़ों के मध्यनजर चौधरी का टिकट रिपीट किया गया है.

2008 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने भागीरथ चौधरी को मैदान में उतारा

2008 के विधानसभा चुनाव में  चौधरी की हार हुई और कांग्रेस के उम्मीदवार नाथूराम सिनोदिया जीते.

साल 2013 में भागीरथ चौधरी तीसरी बार बीजेपी से विधानसभा चुनाव में किशनगढ़ से उम्मीदवार घोषित हुए.

इस बार भागीरथ चौधरी की जीत हुई. उन्होंने कांग्रेस के नाथूराम सिनोदिया हराया और विधायक बने.  

विधानसभा चुनाव साल 2018 में बीजेपी ने भागीरथ चौधरी को टिकट नहीं दिया.

भागीरथ चौधरी को बीजेपी ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में अजमेर से टिकट दिया. 

इस चुनाव में भागीरथ चौधरी ने रिकॉर्ड मत से जीत हुई.

2019 के लोकसभा चुनाव में चौधरी ने कांग्रेस के रिजु झुनझुनवाला को हराया था.

कौन हैं अजमेर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रामचंद्र चौधरी

अजमेर में इस बार चौधरी VS चौधरी का मुकाबला देखने को मिलेगा. कांग्रेस ने रामचंद्र चौधरी को लोकसभा प्रत्याशी घोषित किया है. 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने रिजु झुंझुनवाला को प्रत्याशी बनाया था लेकिन वह बाद में बीजेपी में शामिल हो गए. चार बार विधानसभा चुनाव रामचंद्र चौधरी लड़ चुके हैं लेकिन जीत नहीं सके.

रामचंद्र चौधरी ने  1990 में पहला चुनाव मसूदा से लड़ा.

1998 में रामचंद्र चौधरी ने भिनाय सीट से चुनाव लड़ा.

 2008 में रामचंद्र चौधरी ने मसूदा से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ा.

2013 में कांग्रेस से उनको टिकट नहीं मिला. जिसके बाद मसूदा से उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा था. 

चौधरी एक बार भी विधानसभा चुनाव नहीं जीत पाए हैं.

अजमेर जिला दुग्ध उत्पादन समिति के चुनाव में रामचंद्र चौधरी 30 सालों से जीतते हुए आए हैं.

अजमेर सरस डेयरी में चौधरी का 30 सालों से दबदबा है.

अजमेर सीट चुनावी समीकरण

अजमेर लोकसभा सीट की बात करें तो इसमें 7 विधानसभा सीटें आती हैं. जिनमें अजमेर नॉर्थ, अजमेर साउथ,पुष्कर और नसीराबाद लोकसभा सीट पर बीजेपी ने जीत हासिल की थी. इसके अलावा  मसूदा और केकड़ी सीट पर कांग्रेस की जीत हुई. वहीं किशनगढ़ सीट और जयपुर की दूदू सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे.अजमेर के जातीय समीकरण पर चर्चा करें तो इस सीट पर SC/ST की आबादी करीब 22 फीसदी है. इसके बाद लगभग 16-17 प्रतिशत यहां जाट हैं. वहीं करीब 12 फीसदी अबादी मुस्लिम है. वहीं कुछ क्षेत्र में राजपूतों का दबदबा है.

अजमेर सीट पर कितने वोटर्स

पुरुष वोटर्स करीब-  9 लाख 43 हजार 546

महिला मतदाता करीब-  8 लाख 99 हजार 424

अजमेर सीट पर किसका पलड़ा भारी

अजमेर सीट से वर्तमान में विधायक भागीरथ चौधरी हैं. बीजेपी ने उनका टिकट रिपीट किया है. वहीं कांग्रेस ने रामचंद्र चौधरी को मैदान में उतारा है. जो एक भी विधानसभा चुनाव नहीं जीत सके हैं. ऐसे मे उनको भागीरथ चौधरी से कड़ी चुनौती मिल सकती है.हालांकि नतीजों के आने के बाद अजमेर सीट की स्थिति साफ हो पाएगी.

Trending news