close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एसबीआई की डिजिटल पहल, ATM से कैश निकालने के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत

बैंक के सीजीएम विजय रंजन ने एसबीआई के क्षेत्रीय मुख्यालय में इस सेवा की शुरूआत की है.

एसबीआई की डिजिटल पहल, ATM  से कैश निकालने के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत
प्रदेश के 1009 एटीएम पर यह सेवाएं मिल सकेंगी. (फोटो साभार: Zeebiz)

जयपुर: प्रदेश में एसबीआई के 1009 ATM पर योनो कैश सुविधा की शुरूआत की गई है. अगर आप एसबीआई के ग्राहक हैं तो एटीएम से कैश निकालने के लिए अब कार्ड लेकर जाने की जरूरत आपको नहीं होगी. अब आप एसबीआई के मोबाइल एप योनो से इसका लाभ उठा सकते हैं. माना जा रहा है कि इस नई व्यवस्था से आपके कार्ड से जुड़े फ्रॉड कम होंगे. 

बदलते समय के साथ भारतीय स्टेट बैंक अपनी डिजिटल सेवाओं में लगातार नए फीचर शामिल कर रहा हैं. योनो मोबाइल एप्प के जरिए वन टच पर बैंकिंग सेवाओं से जुड़ी तमाम सुविधाओं का लाभ उठाया जा सकता है. इसी कड़ी में नया नाम योनो कैश सुविधा का है. बैंक के सीजीएम विजय रंजन ने एसबीआई के क्षेत्रीय मुख्यालय में इस सेवा की शुरूआत की है.

SBI बिना कार्ड ट्रान्जैक्शन की सुविधा देने वाला पहला बैंक

अब एसबीआई के पंजीकृत उपभोक्ता अपनी कैश आवश्यकताओं के लिए इसका उपयोग कर सकेंगे. इसके बाद अब आपको एसबीआई के देशभर के एटीएम से रकम निकालने के लिए एटीएम कार्ड की जरूरत नहीं होगी. आप बिना कार्ड योनो ऐप से रकम निकाल सकेंगे. देश में बिना कार्ड के रकम निकालने की सुविधा देना वाला स्टेट बैंक ऑफ इंडिया पहला बैंक बन गया है. इस सेवा को देने वाले एटीएम का नाम योनो कैश प्वाइंट होगा. इसके लिए ग्राहक को योनो एप पर कैश निकालने का विकल्प मिलेगा. 

जानिए कैसे होगा कैस ट्रांजैक्शन

एप में कैश ट्रांजैक्शन के लिए 6 डिजिट का पिन सेट करना होगा. इस ट्रांजैक्शन के लिए आपको अपने मोबाइल पर एसएमएम के जरिए 6 डिजिट का रिफरेंस नंबर भी मिलेगा. इसके बाद आप अपनी नजदीक के एटीएम में जाकर 30 मिनट के भीतर रकम निकाल सकेंगे. वहां पर आपको 6 डिजिट का पिन और 6 डिजिट का रिफरेंस नंबर डालना होगा. रिफरेंस नंबर डालते ही एटीएम से कैश आपके हाथ में होगा. शुरुआत में प्रदेश के 3116 एटीएम में से 1009 एटीएम पर यह सेवाएं मिल सकेंगी.