close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाड़मेर: जसोल हादसे के दौरान रेस्कयू ऑपरेशन चलाने वाले पुलिसकर्मी सम्मानित

इस दौरान सभी अधिकारियों ने पुलिसकर्मियों के सराहनीय कार्य के लिए अपनी कुर्सियों से खड़े होकर काफी देर तक तालियां बजाई. 

बाड़मेर: जसोल हादसे के दौरान रेस्कयू ऑपरेशन चलाने वाले पुलिसकर्मी सम्मानित
पुलिसकर्मियों ने सैकड़ों लोगों की जान बचाई. (फाइल फोटो)

बाड़मेर: जिले के बालोतरा क्षेत्र के जसोल में रविवार को श्री राम कथा के दौरान घटित हुए हादसे में सैकड़ों लोगों को करंट से बचाने व घायलों को पंडाल से बाहर निकालकर तुरंत अस्पताल पहुंचाने वाले जसोल चौकी के दो पुलिसकर्मियों को बाड़मेर प्रभारी सचिव वीणा प्रधान, जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता, एसपी राशि डोगरा डूडी ने कलेक्ट्रेड सभा मे प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया. इस दौरान सभी अधिकारियों ने पुलिसकर्मियों के सराहनीय कार्य के लिए अपनी कुर्सियों से खड़े होकर काफी देर तक तालियां बजाई. 

आपको बता दें कि बाड़मेर के बालोतरा उपखण्ड के जसोल में रविवार को तेज अंधड़ ने वहां कोहराम मचाया और हादसे में 15 लोगों की मौत हो गई, वहीं 45 लोग घायल हो गए थे. जसोल में श्री राम कथा का आयोजन हो रहा था और बारिश होने के चलते कथा का पांडाल भीग गया और तेज अंधड़ से पंडाल गिर गया. जिसमें सैकड़ों लोग दब गए.

वहीं पंडाल में लगे विद्युत प्रवाहित तार पांडाल के साथ ही गिर पड़े और पांडाल भीगे होने की वजह से पूरे पांडाल में करंट फैल गया और बड़ा हादसा हो गया. हादसे के दौरान जसोल पुलिस चौकी के कांस्टेबल दौलाराम व गोमाराम ने पंडाल में लोगों को भागे .इस दौरान इन्होंने पंडाल से करंट का तार निकाला. बता दें, दोनों पुलिसकर्मियों ने विद्युत सप्लाई देने वाले जनरेटर के तार अपने हाथों से खींचकर निकाल दिया. जिससे सैकड़ों लोगों की जान बच गई. 

आमतौर पर सोशल मीडिया पर ट्रोल होने वाली पुलिस इन जवानों के जांबाजी के काम के बाद सोशल मीडिया पर भी जमकर सराहना बटोर रही है. इससे पहले घटना के बाद बालोतरा दौरे पर पहुंचे सीएम अशोक गहलोत ने भी कॉन्सटेबल दौलाराम व गोमाराम की पीठ थपथपा कर सराहना की थी.