राजस्थान: होली पर मिलावटी मिठाईयों से रहें सावधान, ऐसे करें असली-नकली की पहचान

मावे को अपने हाथ में रख कर अंगूठे से रगड़ कर देखे अगर मावे में तैलिए पदार्थ महसूस हो और मावा रुखा न हो तो आपका मावा सही है

राजस्थान: होली पर मिलावटी मिठाईयों से रहें सावधान, ऐसे करें असली-नकली की पहचान
स्वास्थ्य विभाग ने जनता से यह अपील भी की है कि मिलावटी मिठाईयों से सावधान रहें

हिमांशु मित्तल/कोटा: त्यौहार का सीजन बिना मिठाइयों के अधूरा है लेकिन क्या आपको मालूम है कि यह मावा आपको बीमार बना सकता है. खबरों के मुताबिक मिलावटी मावे का हाल कुछ ऐसा ही है. होली पर प्रदेश में सप्लाई होने वाला मावा में मिलालट की खबरें आ रही है. वहीं स्वास्थ्य विभाग भी मिलावटी मावों को लेकर जगह-जगह छापे मारी कर रहा है. 

वहीं स्वास्थ्य विभाग ने जनता से यह अपील भी की है कि मिलावटी मिठाईयों से सावधान रहें. वहीं अब सवाल यह है कि आखिर कैसे पहचाने की जो मावा आप खा रहे है या जिस मावे आपके घर मिठाई बनाने जा रही है वह असली है या नकली? 

असली मावा की पहचान करने का तरीका
1. मावे को अपने हाथ में रख कर अंगूठे से रगड़ कर देखे अगर मावे में तैलिए पदार्थ महसूस हो और मावा रुखा न हो तो आपका मावा सही है. आप उसे खा सकते है और उसकी मिठाई बना सकते है.

2. मावे के छोटे से टुकड़े को मुंह में खाकर देखे मुंह में लेते ही मावे में अगर कोई कसैला पन महसूस हो या कोई तेल की दुर्गन्ध आए तो इसका मतलव आपका मावा मिलावटी या नकली है.

3. आप अपनी हथेली पर मावे को रगड़ कर सुंघ कर भी मावे की सुगंघ के जरिए पहचान सकते हैं की मावा सही है या नहीं.

4. सबसे बड़ा और अहम तरीका जिसके जरिए असली और मिलावटी मावे को की पहचान कर सकते हैं वह है, मावे का एक छोटा सा टुकड़ा लेकर उसपर टिंचर आयोडीन की तीन या चार बूंद डालें. अगर मावा सही होगा तो मावा और टिंचर आयोडीन में कोई परिवर्तन नहीं होगा लेकिन अगर आपका मावा नकली होगा तो टिंचर आयोडीन का वो हिस्सा काला हो जाएगा और मावे पर एक ब्लैक स्पॉट बन जाएगा. जिससे यह पता चल जाएगा कि आपका मावा नकली है.