close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: निर्वाचन अधिकारियों ने 26 लाख कैश के साथ युवक को पकड़ा, लेकिन...

पुलिस को बधाई देने लगे कि राजस्थान में सबसे बड़ी कार्रवाई हुई लेकिन हकिकत से के सामने आते ही अधिकारियों की मेहनत पर पानी फिर गया.

राजस्थान: निर्वाचन अधिकारियों ने 26 लाख कैश के साथ युवक को पकड़ा, लेकिन...
प्रतीकात्मक तस्वीर

जालौर: निर्वाचन विभाग के आला अधिकारियों को आदर्श आचार संहिता का पालन करना होता है. ऐसे में निर्वाचन विभाग के अधिकारी रोज बसों से लेकर कारों की चैकिंग करते हैं लेकिन कोई बड़ा पैसा हाथ नहीं लगाता. ऐसे में 16 अप्रैल की अल सुबह ही कोतवाली के सामने से रोडवेज बस की चैकिंग करने के दौरान एक युवक जिसका नाम श्याम सुन्दर माहेश्रवरी था उसके बैग से 26 लाख 52 हजार रूपया बरामद किया. जिसको लेकर आला अधिकारी हरकत में दिखाई दिए.

सारे अधिकारी नियमों की किताबों के साथ कोतवाली पहुंच गए. पुलिस को बधाई देने लगे कि राजस्थान में सबसे बड़ी कार्रवाई हुई लेकिन हकिकत से के सामने आते ही अधिकारियों की मेहनत पर पानी फिर गया. दरअसल, माहेश्रवरी समाज का यह युवक पेशे से व्यापरी है जो जीरे की फसल का काम करता है. वह अपनी खून पसीने की कमाई के पैसे अहमदाबाद की कृर्षी मंड़ी में जीरे की फसल बेचकर ला रहा था. उसने जैसे ही पर्चा अपने बैग से निकाल कर दिया तो अधिकारी देखते रह गए और उनके कानून की किताब खुलते ही बंद हो गई.

हालांकि, कानून के दायरे मे रहकर युवक को इतना कैश नहीं लाना चाहिए था लेकिन किसानों के घर बैंक के चैक से नहीं नकदी से राशन आता है. उसी का हवाला देकर युवक को देर रात पुलिस ने छोड़ दिया और पैसों को धारा 102 के तहत गिरफ्तार किया यानी जांच का विषय है. मंडी से लेकर युवक के घर तक व्यापार की जांच होगी उसके बाद ही पैसा वापस लौटाया जाएगा. 

युवक को हिरासत में लेने के बाद सेल टैक्स और इनकम टैक्स के अफसर भी पुछताछ के लिए मौके पर पहुंच गए थे लेकिन अपने नियमों के तहत कोई कार्रवाई नहीं कर पाए क्योंकी किसान के पैसे पर सैल टेक्स की छूट है इसलिए इनकम टेक्स लग नहीं सकता है. अन्नदाता की कमाई के लिए सरकार ने पहले ही अपने कनून के तहत छूट दे रखी है. जिले में निर्वाचन विभाग के पास आजतक सीविजल पर महज शिकायतों के नाम पर 3 शिकायत मीली हैं.