close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: संजय कुमार की लिखी ‘कटिहार से कैनेडी..' किताब पर संवाद कार्यक्रम हुआ आयोजित

संवाद कार्यक्रम के दौरान लेखक डॉ. संजय कुमार ने कहा कि जीवन में संघर्ष या हार स्थायी नहीं होती और ऐसी परिस्थितियों में व्यक्ति को टूटना या हारना नहीं चाहिये.

जयपुर: संजय कुमार की लिखी ‘कटिहार से कैनेडी..' किताब पर संवाद कार्यक्रम हुआ आयोजित
किताब पर लेखक के साथ आंचल सिंह ने संवाद किया.

जयपुर: आईएएस एसोसिएशन ने गुलाबी नगरी जयपुर के भामाशाह टैक्नोहब में साहित्य पर चर्चा कार्यक्रम आयोजित किया. कार्यक्रम में डॉ. संजय कुमार की लिखी ‘कटिहार से कैनेडी, दि रोड लेस ट्रेवल्ड’ किताब पर लेखक के साथ आंचल सिंह ने संवाद किया.  

संवाद कार्यक्रम के दौरान लेखक डॉ. संजय कुमार ने कहा कि जीवन में संघर्ष या हार स्थायी नहीं होती और ऐसी परिस्थितियों में व्यक्ति को टूटना या हारना नहीं चाहिये. पढ़ाई और एक्सपोजर के द्वारा लगातार प्रेरित होकर संघर्ष और हार को जीत में बदला जा सकता है. उन्होंने कहा कि मानवीय रिश्ते की बेहतरी के लिये लोगों को ही बदलाव के लिये लगातार प्रयास करने होंगे. 

लाइव टीवी देखें-:

इस दौरान आईएएस एसोसिएशन साहित्यिक सचिव मुग्धा सिन्हा ने कहा कि इस कार्यक्रम से परीक्षा की तैयारी कर रहे बच्चों को मोटिवेशन मिलेगा. अगला कार्यक्रम 21 सितंबर को आयोजित किया जाएगा. जिसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल होंगे. 

डॉ. संजय कुमार वर्तमान में द लक्ष्मी मित्तल एंड फैमिली साउथ एशियन इंस्टीट्यूट, हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के भारतीय निदेशक हैं. सेवा भारत संस्था से जुड़ कर असंगठित क्षेत्र की महिला श्रमिकों के लिए देश के कई हिस्सों में काम किया है.