close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर में राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर हुआ राज्य स्तरीय कार्यक्रम

कार्यक्रम के दौरान राज्य निर्वाचन विभाग के ब्रांड एम्बेसडर निशानेबाज अपूर्वी चंदेल और देवेन्द्र झांझड़िया भी मौजूद थे.

जयपुर में राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर हुआ राज्य स्तरीय कार्यक्रम
राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जयपुर में कार्यक्रम के दौरान मौजूद अतिथि.

जयपुर/ललित कुमार: निर्वाचन आयोग के तत्वाधान में शुक्रवार राज्य स्तरीय कार्यक्रम राजधानी जयपुर के ओटीएस सभागार में आयोजित किया गया. कार्यक्रम का आयोजन राज्य निर्वाचन विभाग के तत्वावधान में किया गया था. निर्वाचन आयोग ने इस कार्यक्रम का आयोजन "कोई मतदाता ना छूटे" की थीम पर किया गया था. कार्यक्रम के दौरान निर्वाचन आयोग के अधिकारियों के अलावा राज्य निर्वाचन विभाग के ब्रांड एम्बेसडर निशानेबाज अपूर्वी चंदेल और देवेन्द्र झांझड़िया भी मौजूद थे.

इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्य निर्वाचन आयोग आय़ुक्त प्रेम सिंह मेहरा ने कहा, '' लोकतंत्र में एक-एक वोट की बड़ी कीमत होती है. जिसका महत्व कई बार देखा जा चुका है. जिसको पूरा करने के लिए निर्वाचन विभाग ने यह लक्ष्य रखा है की देश में 18 साल की उम्र पूरा करने वाला ऐसा कोई मतदाता ना रहे जिसकी वोटर आईडी ना बनी हो. लोकतंत्र को सफल बनाने के लिए राज्य के मतदाता मतदान में अपना योगदान जरूर करें.''

वहीं, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा, '' राज्य में विधानसभा चुनाव के दौरान निर्वाचन विभाग की ओर से किए पहल के कारण प्रदेश में मतदान का फीसदी 73 फीसदी से ऊपर रहा था. विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत में लोकतंत्र को सफल बनाने के लिए निर्वाचन विभाग की ओर से समय के साथ साथ मतदान की प्रक्रिया को और पारदर्शी बनाने का काम किया जा रहा है. जिसके लिए तैयार लक्ष्य काफी कारगर साबित हो रहा है.''

इस दौरान मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने कहा, ''आम चुनाव में निर्वाचन विभाग ने काफी अच्छा काम किया है. आगामी लोकसभा चुनाव से पहले 20 फरवरी तक मतदाता पहचान पत्र से वंचित मतदाताओं को उपलब्ध कराने का कार्य़ संबंधित मातहमों को पूरा करना होगा. इसके साथ ही घर-घर जाकर इस काम को अंतिम रूप दिया जा रहा है.''

उन्होंने यह भी कहा, ''निर्वाचन आयोग ने राज्य में विधानसभा चुनाव बिल्कुल पारदर्शी तरीके से करवाए हैं. राज्य में लोकसभा चुनाव के दौरान वीवीपैट मशीन का इस्तेमाल किया जाएगा.''

कार्यक्रम के दौरान मतदान को बढ़ावा देने के लिए एक नुक्कड़ नाटक की भी प्रस्तुति की गई. इसके अलावा 1 जनवरी तक 18 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले नव मतदाताओं को भी वोटर आईडी कार्ड दिया गया. इसके साथ ही राज्य निर्वाचन आयुक्त पीएस मेहरा ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को मतदान करने की शपथ भी दिलाई.

इस दौरान विधानसभा चुनाव के दौरान उल्लेखनीय काम करने वाले तत्कालीन जिला निर्वाचन अधिकारी चित्तौड़गढ़ इन्द्रजीत सिंह, राजसमंद जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम लाल गुर्जर, जिला निर्वाचन अधिकारी, कोटा गौरव गोयल और जिला निर्वाचन अधिकारी, हनुमानगढ़ दिनेश जैन सहित विशेष पुरस्कार की श्रेणी में 27 लोगों को सम्मानित किया गया.

कार्यक्रम के दौरान एचसीएम रीपा अतिरिक्त आयुक्त सचिव एवं पदेन महानिदेशक गुरजोत कौर, संभागीय आयुक्त केसी वर्मा, जिला निर्वाचन अधिकारी जगरुप सिंह यादव, मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार और अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगाराम मौजूद रहे.