Delhi Crime: दिल्ली के स्कूल में 11 साल की छात्रा से सीनियर्स ने किया गैंगरेप, स्कूल ने दबा दिया मामला! हरकत में आया DCW
topStorieshindi

Delhi Crime: दिल्ली के स्कूल में 11 साल की छात्रा से सीनियर्स ने किया गैंगरेप, स्कूल ने दबा दिया मामला! हरकत में आया DCW

Delhi News: दिल्ली के एक स्कूल में गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोप है कि स्कूल प्रबंधन ने आरोपी छात्रों के रेस्टिकेट कर मामले को दबा दिया. अब महिला आयोग ने स्कूल के खिलाफ एक्शन लिया है.

Delhi Crime: दिल्ली के स्कूल में 11 साल की छात्रा से सीनियर्स ने किया गैंगरेप, स्कूल ने दबा दिया मामला! हरकत में आया DCW

Schoolgirl Gang Rape in Delhi: दिल्ली (Delhi) में 11 साल की एक स्कूली छात्रा से रेप की खबर सामने आई है. आरोप है कि स्कूल में पढ़ने वाले 2 सीनियर छात्रों ने ही इस घटना को अंजाम दिया. घटना सामने आने के बाद दिल्ली महिला आयोग (Delhi Commission for Women) ने मामले का स्वत संज्ञान लेते हुए स्कूल प्रिंसिपल और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है. घटना जुलाई महीने की बताई जा रही है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

टकराने पर सीनियर छात्रों ने किया गैंगरेप

पीड़ित छात्रा का आरोप है कि जुलाई में स्कूल में पढ़ने वाले दो सीनियर छात्रों ने उसके साथ गैंगरेप किया. छात्रा के मुताबिक, जब वह अपनी क्लास में जा रही थी, उसी दौरान वह गलती से 11 वीं-12 वीं कक्षा में पढ़ने वाले दो लड़कों से टकरा गई. इस पर उसने दोनों से माफी मांगी लेकिन उन्होंने उसे पकड़ लिया और खींचकर वाशरूम में ले गए. छात्रा का आरोप है कि दोनों लड़कों ने वॉशरूम को अंदर से बंद करके उसके साथ बलात्कार किया.

आरोपियों को कर दिया गया निष्कासित?

पीड़िता ने कहा कि जब उसने घटना के बारे में एक टीचर को बताया तो उसे गया कि लड़कों को निष्कासित कर दिया गया है यानी मामले को कथित तौर पर दबा दिया गया. इसी बीच दिल्ली महिला आयोग को घटना की जानकारी हुई. मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस और स्कूल के प्रिंसिपल को नोटिस जारी कर मामले में कार्रवाई रिपोर्ट मांगी. 

दिल्ली पुलिस और स्कूल प्रिंसिपल को नोटिस

आयोग (Delhi Commission for Women) ने इस मामले में दिल्ली पुलिस से एफआईआर की एक प्रति और मामले में की गई गिरफ्तारियों की डिटेल उपलब्ध करवाने को कहा है. इसके साथ ही स्कूल प्रिंसिपल को भी नोटिस जारी कर लिखित में रिपोर्ट मांगी गई है. मालीवाल के मुताबिक, लड़की ने आरोप लगाया है कि उसके स्कूल टीचर ने मामले को दबाने की कोशिश की. आयोग ने स्कूल के प्रिंसिपल से यह बताने के लिए कहा है कि स्कूल अधिकारियों को इस मामले के बारे में कब पता चला और उनके द्वारा क्या कार्रवाई की गई. 

(ये स्टोरी आपने पढ़ी देश की सर्वश्रेष्ठ हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर)

(एजेंसी आईएएनएस)

Trending news