Zee Rozgar Samachar

Serum Institute of India ने India में Corona Vaccine के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी

सीरम-ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) कोविशील्ड का भारत में उत्पादन हो रहा है और उसका ट्रायल भी चल रहा है. इससे पहले अमेरिकी कंपनी फाइजर (Pfizer) भी भारत (India) में कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांग चुकी है.

Serum Institute of India ने India में Corona Vaccine के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी
फोटो साभार: रॉयटर्स

नई दिल्ली: कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) निर्माण करने वाली विदेशी कंपनी फाइजर-बायोटेक के बाद स्वदेशी कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने भारत में कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए इजाजत मांगी है. सूत्रों के मुताबिक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने भारतीय औषधि महानियंत्रक को कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति देने के लिए आवेदन भेजा है.

बता दें कि सीरम-ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) कोविशील्ड का भारत में उत्पादन हो रहा है और उसका ट्रायल भी चल रहा है. भारत में कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की इजाजत मांगने के बाद वो ऐसा करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है. इससे पहले अमेरिकी कंपनी फाइजर (Pfizer) भी भारत में कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांग चुकी है.

गौरतलब है कि ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिलने के बाद कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) बनाने वाली कंपनी फाइजर ने भारत में आवेदन किया है. फाइजर कंपनी की भारतीय इकाई ने 4 दिसंबर को कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) को अपना आवेदन भेजा.

ये भी पढ़ें- चीन के होश ठिकाने लगाने के लिए साथ आए ये तीन देश, अगले साल होगा शक्ति प्रदर्शन

जान लें कि फाइजर-बायोटेक (Pfizer-BioNTech) कंपनी ने कोरोना वायरस (Coronavirus) वैक्सीन (Vaccine) के भारत में आयात और यहां के लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने की मंजूरी मांगी है. फाइजर (Pfizer) कंपनी के मुताबिक, उनकी कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) को ब्रिटेन और बहरीन में आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिल चुकी है.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) बनाने वाली फाइजर (Pfizer) कंपनी भारत में अपनी वैक्सीन को बेचने के अलावा भारतीयों पर इसका क्लीनिकल ट्रायल भी करना चाहती है. फाइजर-बायोटेक (Pfizer-BioNTech) कंपनी ने भारत में क्लीनिकल ट्रायल के लिए दवा और क्लीनिकल परीक्षण नियम, 2019 (Drugs and Clinical Trials Rules, 2019) के प्रावधानों के तहत अनुमति मांगी है.

ये भी पढ़ें- Farmers Protest: ब्रिटेन में भारतीय हाई कमीशन के सामने प्रदर्शन, खालिस्तानी झंडे दिखे

गौरतलब है कि बुधवार को ब्रिटेन ने फाइजर कंपनी के कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी. इसके बाद शुक्रवार को बहरीन ने भी फाइजर कंपनी के कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की इजाजत दी थी. इसके बाद फाइजर कंपनी ने अपनी वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल और क्लीनिकल ट्रायल के लिए भारत का रुख किया. फाइजर कंपनी अमेरिका में भी कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी के लिए आवेदन कर चुकी है.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.