MLA सुखपाल खैरा के खिलाफ हाईकोर्ट जाएगी AAP, दलबदल कानून के तरह कार्रवाई की करेगी मांग

आम आदमी पार्टी की टिकट पर विधायक बने खैरा ने बगावत करके अपनी नई पार्टी बना ली थी. यह जानकारी नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा ने दी है. 

MLA सुखपाल खैरा के खिलाफ हाईकोर्ट जाएगी AAP, दलबदल कानून के तरह कार्रवाई की करेगी मांग
फाइल फोटो

चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी (AAP) अब अपने बागी विधायक सुखपाल खैरा (Sukhpal singh Khaira) के खिलाफ करवाई करवाने के लिए हाई कोर्ट का रुख करेगी.पार्टी विधायक सुखपाल खैरा के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई करवाना चाहती है. हालांकि आम आदमी पार्टी ने विधानसभा स्पीकर को शिकायत दी थी. मगर देरी होने की वजह से आम आदमी पार्टी निराश है और इसलिए जनवरी के पहले सप्ताह में कोर्ट का रुख कर सकती है.

आम आदमी पार्टी की टिकट पर विधायक बने खैरा ने बगावत करके अपनी नई पार्टी बना ली थी. यह जानकारी नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा ने दी है. 

आम आदमी पार्टी अब अपने बागी विधायक सुखपाल खैरा के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई करवाने के लिए हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी. नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा ने जानकारी दी है कि जनवरी के पहले सप्ताह में पार्टी हाई कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है. नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा ने कहा है कि उन्होंने विधान सभा सपीकर के पास शिकायत दी थी मगर एक साल के करीब गुजर जाने के बावजूद भी कोई निर्णय नहीं हुआ लिहाजा पार्टी अब कोर्ट का रूख करेगी.

यह भी पढ़ें- पंजाबः MLA सुखपाल सिंह खैरा ने AAP से दिया इस्तीफा, पार्टी पर लगाया यह आरोप

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी ने करीब साल भर पहले विधान सभा स्पीकर को सुखपाल खेरा के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई करने की शिकायत दी थी मगर आम आदमी पार्टी का आरोप है कि इस पर कोई निर्णय नहीं लिया जा रहा जिसकी वजह से कोर्ट का रुख किया जाएगा. 

यह भी पढ़ें- पंजाब: विधानसभा अध्यक्ष ने विधायक सुखपाल सिंह खैरा को नोटिस किया जारी

दरअसल सुखपाल खैरा ने भुल्थ सीट से विधान सभा का चुनाव आम आदमी पार्टी की टिकट से जीता था मगर इसके बाद सुखपाल खैरा ने पार्टी के साथ बगावत करके अपनी नई पार्टी बना ली थी. इसी के मध्यनजर आम आदमी पार्टी सुखपाल खैरा के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई चाहती है जिसमे खैरा को विधायक की कुर्सी से भी हाथ धोना पड़ सकता है. बहरहाल देखना होगा कि क्या आम आदमी पार्टी के कोर्ट का रूख करने से पहले स्पीकर की तरफ से सुखपाल खैरा के मामले में कोई निर्णय आ सकता है या नहीं.