close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अवैध पार्किंग को लेकर विधायक और पार्षद ने BMC कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा

इस ज्ञापन में कई महत्‍वपूर्ण बातें शामिल हैं जैसे की अवैध पार्किंग से जुडी समस्‍याओं के लिए पालिसी बनाई जाए.

अवैध पार्किंग को लेकर विधायक और पार्षद ने BMC कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा

मुंबई : ज़ी न्यूज़ ने my road, my right  कैंपेन शुरू किया है अब उसे ना केवल जनसहयोग मिल रहा है बल्कि राजनीतिक सहयोग भी मिलना शुरू हो गया है. बिना अवैध पार्किंग के खुली सड़क पर चलने  के आपके अधिकार को बचाने के लिए ही ज़ी न्यूज़ ने इस मुहीम को शुरू किया है. आज साउथ मुंबई इलाके से विधायक राज पुरोहित ने मरीन ड्राइव इलाके के नगरसेवक आकाश पुरोहित के साथ मिलकर एक ज्ञापन BMC कमिश्नर अजोय मेहता को दिया है. इस ज्ञापन में कई महत्‍वपूर्ण बातें शामिल हैं जैसे की अवैध पार्किंग से जुडी समस्‍याओं के लिए पालिसी बनाई जाए.

पार्किंग व्यवस्था न होने, डबल पार्किंग के कारण इमरजेंसी में फायर ब्रिगेड और एम्बुलेंस के वक्त पर पहुंचने में होने ध्यान में रखकर पालिसी बनायीं जाए. मरीन ड्राइव जैसे क्षेत्र में अतिरिक्त फायर सेंटर होना चाहिए. मरीन ड्राइव में रहने वाले लोगो के लिए आग लगने के समय क्या सावधानी बरती जाये, इसकी ट्रेनिंग समय समय पर दी जाए. इसके साथ ही मरीन ड्राइव पर लगाए गए " हेरिटेज दर्जा " के कारण विकास कार्यो में होने वाली बाधा और नागरिकों को होने वाली असुविधा को ध्यान में रख कर पालिसी बनायीं जाएं.

ज़ी न्यूज़ से बात करते हुए विधायक राज पुरोहित ने कहा "हेरिटेज का दर्जा होने की वजह से इस इलाके में नया कंस्ट्रक्शन नहीं हो सकता है और इसी वजह से यहा अवैध पार्किंग की समस्या बनी रहती है. अगर यहां नए सिरे से बिल्डिंगों को बनाने दिया जाये तो उसमे पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी, जिससे अवैध पार्किंग को ख़त्म किया जा सकेगा."

वहीं मरीन ड्राइव इलाके के नगरसेवक आकाश पुरोहित ने कहा "वो जल्द ही इस इलाके की बिल्डिंग्स के चेयरमैन और सेक्रेटरी की एक मीटिंग लेंगे जिसमें सबको एक साथ एक मंच पर लाया जायेगा, फिर हेरिटेज दर्जे के खिलाफ सबको एक साथ लाकर इसे बड़े आंदोलन में बदलना है अगर फिर भी बात नहीं बनी तो इन सभी चेयरमैन और सेक्रेटरी को एक साथ ले जाकर मुख्यमंत्री को इस समस्या से अवगत करवाना है."

गौरतलब है की चेम्बूर में लगी आग को बुझाने के लिए पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को बिल्डिंग तक पहुंचने में ही करीब 35 से 40 मिनट लग गए थे जिसकी मुख्य वजह थी रोड के दोनों तरफ कड़ी अवैध कार और गाड़ियों की पार्किंग, जिसकी वजह से 5 लोगो को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था. अगर ये हादसा मुंबई में मरीन ड्राइव जैसे रिहायशी इलाके में या फिर झावेरी बाज़ार जैसे कमर्शियल इलाके में होता है तो ये कितना भयावह हो सकता है इस बात का सिर्फ अंदाजा ही लगाया जा  सकता है. इसी लिए अब ज़ी न्यूज़ ने my road, my right  कैंपेन शुरू किया है ताकि ऐसी परिस्थिति में किसी भी इमरजेंसी व्‍हीकल को आने जाने में ज़्यादा वक्त ना लगे.