Zee Rozgar Samachar

हुगली में पीएम Narendra Modi ने जहां की थी रैली, TMC ने गंगाजल से कराया 'पवित्र'

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हुगली के चिनसुरा इलाके में जनसभा को संबोधित किया था और टीएमसी पर जमकर हमला बोला था. जिसके बाद मंगलवार को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जनसभा स्थल पर गंगाजल से पवित्र किया. बुधवार को ममता बनर्जी इसी मैदान से रैली को संबोधित करने वाली हैं.

हुगली में पीएम Narendra Modi ने जहां की थी रैली, TMC ने गंगाजल से कराया 'पवित्र'
पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (फाइल फोटो).

हुगली: पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections 2021) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) और तृणमूल कांग्रेस (TMC) के बीच छिड़ी जंग तेज होती जा रहा है. बीते सोमवार को हुगली जिले के जिस फुटबॉल मैदान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने रैली को संबोधित करते हुए टीएमसी पर निशाना साधा था, आज इसी मैदान में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने गंगाजल छिटककर उसका शुद्धिकरण किया है.

TMC जिलाध्यक्ष दिलीप यादव की अगुवाई में चलाए गए इस शुद्धिकरण अभियान में समर्थकों ने कहा, 'भाजपा के इस मैदान में पैर पड़ते ही मैदान अपवित्र हो गया. भाजपा एक अशुभ शक्ति है जिसे बंगाल से भगाने के लिए गंगाजल छिड़ककर शुद्धिकरण किया जा रहा है. ताकि अशुभ शक्ति के प्रभाव से बंगाल को मुक्ति मिल सके.' इसके बाद तृणमूल समर्थकों ने पीएम मोदी के खिलाफ नारे लगाए और कहा कि मोदी सरकार दूर हटो.

ये भी पढ़ें:- शबनम के मासूम बेटे की गुहार- 'वो मेरी मां है, इसलिए उसे जीवनदान दे दो'

बुधवार को जनसभा करेंगी ममता बनर्जी

बताते चलें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) एक महीने के अंदर तीसरी बार पश्चिम बंगाल के दौरे पर सोमवार को हुगली पहुंचे थे. यहां चिनसुरा इलाके में उन्होंने पार्टी की ओर से आयोजित एक जनसभा को संबोधित किया था. अब पश्चिम बंगाल की वर्तमान सीएम ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) भी हुगली के इसी मैदान से बुधवार को एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करने वाली हैं. इसलिए टीएमसी कार्यकर्ताओं ने इस मैदान का शुद्धिकरण किया है.

ये भी पढ़ें:- टूलकिट मामले में दिशा रवि को मिली जमानत, लेकिन कोर्ट ने रखी ये शर्त

'बंगाल की सरकार ने लोगों के हक छीने'

जनसभा के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि एक दौर था जब पश्चिम बंगाल (West Bengal) की जूट मिलें, देश की अधिकांश जरूरतों को पूरा करती थीं. लेकिन इस इंडस्ट्री को भी अपने हाल पर छोड़ दिया गया था. जबकि इससे हमारे किसान, हमारे श्रमिक, हमारे गरीब सीधे जुड़े होते हैं. हुगली जिला तो भारत में उद्योगों का एक प्रकार से हब था. हुगली के दोनों किनारों पर जूट इंडस्ट्री थी, आयरन और स्टील, मशीनों के बड़े-बड़े कारखाने थे. बड़े पैमाने पर यहां से निर्यात होता था. लेकिन अब आज हुगली की क्या स्थिति है, ये आप भली-भांति जानते हैं. बंगाल के लाखों किसान परिवारों को पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा नहीं मिल पाया है. उनके हक को यहां की सरकार में बैठे हुए लोगों ने छीन लिया है. 

ये भी पढ़ें:- BMW की ये नई बाइक देखकर उड़ जाएंगे होश! कीमत इतनी कि मिल जाए 2 SUV

'लाखों किसानों को नहीं मिल पाया उनका हक'

पीएम मोदी ने कहा, 'बंगाल के लाखों किसान परिवारों को पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा इसी मानसिकता के कारण नहीं मिल पाया है. आज मैं बंगाल के लोगों को ये विश्वास दिलाता हूं, जब बंगाल में भाजपा की सरकार बनेगी तो हर बंगाल वासी अपनी संस्कृति का गौरवगान कर सकेगा. पिछली बार मैं आपको गैस कनेक्टिविटी का, इंफ्रास्ट्रक्चर का उपहार देने आया था. आज रेल और मेट्रो कनेक्टिविटी को मजबूत करने वाले महत्वपूर्ण काम शुरु होने जा रहे हैं. आप लोगों का ये उत्साह, ये उमंग, ये ऊर्जा कोलकाता से लेकर दिल्ली तक बहुत बड़ा संदेश दे रहा है. अब पश्चिम बंगाल परिवर्तन का मन बना चुका है.'

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.