Diet For Long Life: अगर जीना चाहते हैं 100 साल से ज्यादा, तो ये चीजें कर लें डाइट में शामिल
X

Diet For Long Life: अगर जीना चाहते हैं 100 साल से ज्यादा, तो ये चीजें कर लें डाइट में शामिल

Diet For Long Life: हम जो खाना रोजाना खाते हैं उससे हमें सही मात्रा या संपूर्ण पोषण नहीं मिल पाता. इससे सेहत के साथ साथ आपकी उम्र पर भी असर पड़ता है. आज हम आपको एक डाइट प्लान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी जीने की उम्र बढ़ जाएगी.

Diet For Long Life: अगर जीना चाहते हैं 100 साल से ज्यादा, तो ये चीजें कर लें डाइट में शामिल

नई दिल्ली. ज्यादा जीने की इच्छा किसकी नहीं होती? हेल्दी रहकर आप 100 साल तक भी जी लिए तो इससे बेहतर जिंदगी का कोई दूसरा अचीवमेंट शायद नहीं हो सकता. लेकिन आजकल 50 के बाद लोग ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी, डायबिटीज आदि बीमारियों के अलावा कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की चपेट में भी आ जाते हैं. असल में, मानव शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए कई विटामिन्स और मिनरल्स की जरूरत होती है. हम जो खाना रोजाना खाते हैं, उससे हमें सही मात्रा या संपूर्ण पोषण नहीं मिल पाता. इसलिए आपको जरूरत पड़ती है, एक ऐसे डाइट प्लान की जिससे आपको सभी जरूरी पोषक तत्व मिल जाएं. आज हम आपको एक डाइट प्लान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी उम्र बढ़ जाएगी.

कच्चा शहद

हेल्थ एंड न्यूट्रिशन एक्सपर्ट के अनुसार कच्चे शहद में मौजूद पोषक तत्व कैंसर और दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम करते हैं. नेशनल लाइब्रेरी ऑफ हेल्थ में पब्लिश एक रिपोर्ट के मुताबिक लीवर, कोलोरेक्टल और ब्रेस्ट कैंसर जैसे रोगों में शहद असरदार है. स्टडी के अनुसार, शहद ट्यूमर और कैंसर जैसी कोशिकाओं के लिए हाई साइटोटॉक्सिक है, जबकि सामान्य कोशिकाओं के लिए नॉन-साइटोटॉक्सिक है. 

ये भी पढ़ें: ये 5 'गंदी' आदतें नहीं घटने देतीं आपका वजन, ज्यादातर लोग करते हैं गलती

बकरी के दूध से बना केफिर

बकरी के दूध से बना केफिर प्रोटीन, वसा, विटामिन और अमीनो एसिड का एक स्रोत है. केफिर में मौजूद प्रोबायोटिक्स हमारे इम्यूनिटी सिस्टम को दुरुस्त कर कैंसर के ट्यूमर को बढ़ने से रोकते हैं. ये बात कई टेस्ट ट्यूब रिसर्च में सामने आई है. जर्नल ऑफ मेडिसिनल फूड में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक, केफिर इंसानों में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा 56 प्रतिशत तक कम कर सकता है. 

अनार

अनार खाने के कई फायदे तो आपको पता होंगे. अनार विटामिन A, C, E और कई प्रकार के मिनरल्स का अच्छा स्रोत माना जाता है. अनार में एंटी वायरल और एंटी-ट्यूमर प्रॉपर्टीज भी पाई जाती है, नेचर मेडिसिन में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, अनार में माइटोकांड्रिया मांसपेशियों को कमजोर नहीं पड़ने देता है. एक अन्य स्टडी के मुताबिक, माइटोकांड्रिया का डिसफंक्शन पार्किसन जैसी एजिंग डिसीज को ट्रिगर करने का काम कर सकता है.

कच्चा केला

कच्चे केले को विटामिन्स का पावर हाउस भी कहा जाता है. यह आपको पोटैशियम से अलग भी बहुत सारे विटामिन, मिनरल प्रदान करता है जिनमें से कुछ पौष्टिक तत्त्व विटामिन सी, बी 6 हैं. यह आपको आयरन और फोलेट जैसे विटामिन भी उपलब्ध करवाता है और इन सब विटामिन के अब्जॉर्ब होने में भी लाभदायक होता है. ये डायबिटीज में काफी लाभदायक है. इसके अलावा हरा केला खाने से किडनी कैंसर का खतरा भी 50 प्रतिशत तक कम हो सकता है.

ये भी पढ़ें: इन 5 खूबियों पर फिदा रहती हैं लड़कियां, आप भी बन सकते हैं अपनी पार्टनर के 'हीरो'

फर्मेटेड फूड्स

फर्मेटेड फूड्स हमारे मेटाबॉलिक रेट को बदल सकते हैं. फर्मेंटेड फूड का सेवन आंतों के लिए भी फायदेमंद माना जाता है. इसके सेवन से पाचन क्रिया सही तरह से काम करती है जिससे आपको कब्ज, गैस, अपच  और एसिडिटी जैसी दिक्कतों को दूर करने में मदद मिलती है. फर्मेंटेड फूड में लैक्टिक एसिड पाया जाता है जो आंतों की सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है. इसके अलावा अपने रुटीन डाइट में फर्मेंटेड फूड को शामिल करने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

LIVE TV

Trending news