Zee Rozgar Samachar

तीसरे मोर्चे की कवायद में लगे रहे नायडू, नहीं बचाए पाए कुर्सी, अब आंध्र प्रदेश में बनेगी जगन रेड्डी की सरकार

नायडू ने अपना इस्तीफा राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन को सौंपा, जिन्होंने इसे स्वीकार किया और नायडू को वैकल्पिक व्यवस्था होने तक अपने काम को जारी रखने के लिए कहा.

तीसरे मोर्चे की कवायद में लगे रहे नायडू, नहीं बचाए पाए कुर्सी, अब आंध्र प्रदेश में बनेगी जगन रेड्डी की सरकार
25 मई को मंदिरों के शहर तिरुपति में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

नई दिल्ली : कांग्रेस, बीजेपी के अलावा तीसरे मोर्चे की कवायद में लगे तेलगू देशम पार्टी के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू को विधानसभा चुनावों में आंध्र प्रदेश की सत्ता से हाथ धोना पड़ा है. आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने जबरदस्‍त बढ़त हासिल की है. विधानसभा की 175 सीटों में 146 सीटों पर वाईएसआर कांग्रेस ने या तो जीत हासिल कर ली है या बढ़त बनाए हुए है. इस तरह वहां चंद्रबाबू नायडू को मुख्‍यमंत्री पद से हाथ धोना पड़ा है. उनकी पार्टी टीडीपी को 28 सीटें ही मिल पाई हैं. 

आंकड़ों में देखिए किस पार्टी को मिली कितनी सीटें...

नायडू को सौंपना पड़ा इस्तीफा
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने विधानसभा चुनाव में तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) की करारी हार के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया. नायडू ने अपना इस्तीफा राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन को सौंपा, जिन्होंने इसे स्वीकार किया और नायडू को वैकल्पिक व्यवस्था होने तक अपने काम को जारी रखने के लिए कहा.

25 मई को शपथ लेंगे रेड्डी
ऐसे में पार्टी के विधायक 25 मई को बैठक करेंगे और अपने प्रमुख जगन मोहन रेड्डी को औपचारिक तौर पर नेता चुनेंगे. पार्टी सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक, 25 मई को मंदिरों के शहर तिरुपति में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. ताजा रुझान के अनुसार राज्य की कुल 175 सीटों में से 150 सीटों पर वाईएसआर कांग्रेस आगे चल रही है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.