JMM नेता हेमंत सोरेन की बढ़ सकती है मुश्किलें, दर्ज होगा आचार संहिता उल्लंघन का मामला

जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन पर जिला प्रशासन आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कराएगा.

JMM नेता हेमंत सोरेन की बढ़ सकती है मुश्किलें, दर्ज होगा आचार संहिता उल्लंघन का मामला
हेमंत सोरेन पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया जाएगा.

जामताड़ाः लोकसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग काफी सख्ती बरत रहा है. आचार संहिता उल्लंघन मामले में चुनाव आयोग कड़ी कार्रवाई कर रही है. देश में कई नेताओं पर आचार संहिता उल्लंघन मामले में कार्रवाई की जा रही है. अब इस मामले में जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन भी कार्रवाई हो सकती है.

जेएमएम नेता हेमंत सोरेन पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया जा रहा है. दरअसल, हेमंत सोरेन जामताड़ा में प्रचार करने पहुंचे थे. लेकिन जिला प्रशासन के मुताबिक उन्होंने प्रचार के दौरान आचार संहिता उल्लंघन करने की बात कही है.

बताया जा रहा है कि हेमंत सोरेन को जिला प्रशासन ने 4 बजे तक प्रचार करने का समय निर्धारित किया था. लेकिन प्रशासन का कहना है कि हेमंत सोरेन प्रचार कर वहां से 5.15 बजे हेलीकॉप्टर से वहां से गए. इसलिए निर्धारित समय से अधिक देर तक कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होने को लेकर जिला प्रशासन द्वारा आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया जा रहा है.

प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी ने आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज करने की बात कही है. वहीं इस मामले में जेएमएम नेता हेमंत सोरेन का कहना है कि उन्होंने संबोधन निर्धारित समय पर ही पूरा किया है. लेकिन अब स्थान पर खड़ा होना भी आचार संहिता का उल्लंघन माना जा रहा है.

बहरहाल, हेमंत सोरेन का कहना है कि उन्होंने नियम के मुताबिक काम किया है. लेकिन उन्हें जबरन आचार संहिता मामले में घसीटा जा रहा है. देखना यह है कि आयोग इस मामले में क्या कार्रवाई करती है.

वहीं, बिहार में भी कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, अध्यक्ष मदन मोहन झा और एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया जा सकता है. बताया जा रहा है कि मोतिहारी में प्रशासन ने उन्हें हेलीकॉप्टर पुलिस लाइन में उतारने को कहा था लेकिन बिना अनुमति के नेताओं ने हेलीकॉप्टर को सभा स्थल पर उतारा है. अब इस मामले में सभी नेताओं पर मामला दर्ज करने की बात कही जा रही है.