close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अखिलेश यादव को मिली विरासत में राजनीति, ऐसे तय किया मुख्यमंत्री से सपा मुखिया का सफर

अखिलेश यादव 2000 में कन्नौज से लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी.

अखिलेश यादव को मिली विरासत में राजनीति, ऐसे तय किया मुख्यमंत्री से सपा मुखिया का सफर
सपा प्रमुख अखिलेश यादव. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः अखिलेश यादव का जन्म 1 जुलाई 1973 को इटावा के सैफई गांव में हुआ. वह समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी मालती देवी की संतान हैं. उनकी प्राथमिक शिक्षा राजस्थान के मिलिट्री स्कूल धौलपुर से हुई. इसके बाद मैसूर के एसजे कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंस से स्नातक की उपाधि प्राप्त की. 

अखिलेश यादव ने सिडनी विश्वविद्यालय से पर्यावरण अभियान्त्रिकी में स्नातकोत्तर भी किया. अखिलेश की शादी डिम्पल यादव से 1999 में हुई. उनके तीन संतान भी हैं. अखिलेश यादव को विरासत में राजनीति मिली है. उनके पिता मुलायम सिंह यादव एक बड़े राजनेता हैं.

अखिलेश यादव 2000 और 2009 में कन्नौज सीट से लोकसभा चुनाव में जीत हासिल की. वहीं, 2012 में उन्हें यूपी में समाजवादी पार्टी का नेतृत्व करने का मौका मिला. विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत का श्रेय देते हुए उन्हें मुख्यमंत्री बनाया गया. जिसके बाद 2012 में उन्होंने सांसद पद से इस्तीफा देते हुए यूपी विधान परिषद के सदस्य बने. 

वहीं, 1 जनवरी 2017 को वह समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए. हालांकि इस बात से उनके पिता मुलायम सिंह यादव नाराज हुए थे. वहीं, इसके बाद समाजवादी पार्टी दो भाग में भी बंट गए. अखिलेश यादव अब सपा का नेतृत्व लोकसभा चुनाव 2019 में भी कर रहे हैं.