close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Lok sabha elections 2019 : संजय निरुपम ने मंच से कहा- 'चुनाव में कार्यकर्ताओं को थोड़े-थोड़े पैसे दो...'

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) के लिए जनसभा कर रहे कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने विवादित टिप्पणी की है.

Lok sabha elections 2019 : संजय निरुपम ने मंच से कहा- 'चुनाव में कार्यकर्ताओं को थोड़े-थोड़े पैसे दो...'
कांग्रेस नेता संजय निरुपम अपने बयानोंं को लेकर हमेशा सुर्खियों में बने रहते हैं.

मुंबई: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) के लिए जनसभा कर रहे कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने विवादित टिप्पणी की है. मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने चुनाव जीतने के लिए कार्यकर्ताओं को पैसे देने की बात कही है. रविवार को संजय निरुपम मुंबई साउथ सेंट्रल से राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) प्रत्याशी एकनाथ गायकवाड़ के लिए जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे. जनसभा में संजय निरुपम ने कहा कि हम पैसे बांटने में बीजेपी-शिवसेना की बराबरी नहीं कर पाएंगे.

निरुपम यहीं नहीं रुके, उन्होंने मंच पर बैठे NCP प्रत्याशी एकनाथ गायकवाड़ की ओर इशारा करते हुए कहा, 'क्यों गायकवाड़ साहब पैसे तो हैं ना आपके पास, बीजेपी-शिवसेना के बराबर तो नहीं, लेकिन कार्यकर्ताओं को थोड़े-थोड़े पैसे तो दो.' 

मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम जब मंच से कार्यकर्ताओं को पैसे बांटने की बात कह रहे थे, उस दौरान वहां मौजूद NCP प्रत्याशी एकनाथ गायकवाड़ थोड़ा झेंपते हुए दिखे. हालांकि मुस्कुराकर वे इसे टालते हुए दिखे.

मालूम हो कि कांग्रेस और राकांपा ने शनिवार को महाराष्ट्र में आगामी लोकसभा चुनावों के लिए सीटों के बंटवारे की घोषणा की. कांग्रेस और राकांपा राज्य में क्रमश: 26 और 22 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे.

महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख अशोक चव्हाण और राकांपा के वरिष्ठ नेता अजीत पवार ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा-शिवसेना से मुकाबला करने के लिए उनके गठबंधन का समर्थन करने के लिए 56 दल और संगठन एकसाथ आए हैं.

कांग्रेस अपने हिस्से की सीटों से पालघर सीट बहुजन विकास आघाडी और एक अन्य अघोषित सीट राजू शेट्टी की पार्टी स्वाभिमानी शेतकारी संगठन को देगी. राकांपा अपनी 22 सीटों में से हातकणंगले सीट शेट्टी के लिए जबकि एक अन्य सीट निर्दलीय विधायक रवि राणा की युवा स्वाभिमान पार्टी के लिए छोड़ेगी.

किसी पार्टी का नाम लिये बिना चव्हाण और पवार ने कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से दूर रहने वालों को ‘‘भाजपा की बी टीम’’ करार दिया. इन नेताओं की टिप्पणियां भारिपा बहुजन महासंघ के नेता प्रकाश आंबेडकर के संदर्भ में मानी जा रही हैं जिन्होंने गठबंधन से हाथ मिलाने से इंकार कर दिया है.