AAP से गठबंधन की बात पर तमतमाई शीला, बोलीं- 'अजय तुमने 4 साल क्या किया जो ये नौबत आ गई'

शीला दीक्षित ने बेहद तल्ख अंदाज में अजय माकन से पूछा कि 4 साल अध्यक्ष रहते हुए आपने दिल्ली में क्या किया कि आज AAP से गठबंधन की वकालत कर रहे हो.

AAP से गठबंधन की बात पर तमतमाई शीला, बोलीं- 'अजय तुमने 4 साल क्या किया जो ये नौबत आ गई'
शीला दीक्षित की अगुवाई में कांग्रेस दिल्ली में 15 साल सरकार चला चुकी है.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) में दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) के साथ गठबंधन करने के लिए सोमवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के घर पर कांग्रेस नेताओं की बैठक हुई. बैठक में दिल्ली कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन के बीच जमकर बहस हुई. शीला दीक्षित ने बेहद तल्ख अंदाज में अजय माकन से पूछा कि 4 साल अध्यक्ष रहते हुए आपने दिल्ली में क्या किया कि आज AAP से गठबंधन की वकालत कर रहे हो.

सूत्रों का कहना है कि बैठक के दौरान अजय माकन आप से गठबंधन करने के पक्ष में अपनी बात रख रहे थे. इसी बात पर शीला दीक्षित गुस्सा हो गईं और उन्होंने तल्ख भरे अंदाज में उनसे सवाल कर बैठीं. आम आदमी पार्टी से गठबंधन को लेकर कांग्रेस पार्टी दो गुटों में बंट गई है. प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित, योगानंद शास्त्री और तीनों वर्किंग प्रेसिडेंट दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ने के पक्ष में हैं. 

वहीं दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको, अजय माकन और सुभाष चोपड़ा चाहते हैं कि आप के साथ गठबंधन करके लोकसभा चुनाव लड़ा जाए. बताया जा रहा है कि दोनों पक्षों के बीच काफी गरमा-गरम बहस के बाद गठबंधन का फैसला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया.

सूत्रों का कहना है कि इस बैठक से पहले राहुल गांधी ने एनसीपी समेत कई दूसरे दलों से भी बात की थी. वहीं एक अलग बैठक में कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने भी पार्टी की प्रदेश इकाई के कार्यकारी अध्यक्षों देवेंद्र यादव, हारुन यूसुफ एवं राजेश लिलोठिया से अपने आवास पर चर्चा की.

दीक्षित ने कहा कि वह आप के साथ किसी तरह के गठबंधन के खिलाफ हैं, लेकिन वह इस संबंध में पार्टी की ओर से लिए गए फैसले को मानेंगी. सूत्रों ने बताया कि आप ने पंजाब, दिल्ली, हरियाणा में भी कांग्रेस के साथ नये सिरे से गठबंधन की कोशिश की है. 

उन्होंने बताया कि आप पंजाब में तीन सीटों और हरियाणा में दो सीटों पर लड़ना चाहती है वहीं दिल्ली में अपने लिए वह पांच सीट मांग रही है.

दिल्ली के लिए कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको ने कहा, 'आप के साथ गठबंधन करने की संभावना पर मैं दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के नेताओं के साथ सलाह-मश्विरा कर रहा हूं.'