NCP का चुनावी वादा, सत्ता में आए तो पाकिस्तान से शुरू करेंगे बातचीत

लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha elections 2019) को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) की ओर से जारी घोषणापत्र में पाकिस्तान के साथ बातचीत की बात कही गई है. घोषणा पत्र में एनसीपी ने कहा है कि अगर वे सत्ता में आते हैं तो पाकिस्तान के साथ बातचीत करेंगे.

NCP का चुनावी वादा, सत्ता में आए तो पाकिस्तान से शुरू करेंगे बातचीत
शरद पवार की पार्टी एनसीपी पाकिस्तान के साथ बातचीत की हिमायती है.

नई दिल्ली: पुलवामा हमला और भारत की ओर से किए गए एयर स्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच तनावपूवर्ण माहौल बना हुआ है. इसी बीच लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha elections 2019) को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) की ओर से जारी घोषणापत्र में पाकिस्तान के साथ बातचीत की बात कही गई है. घोषणा पत्र में एनसीपी ने कहा है कि अगर वे सत्ता में आते हैं तो पाकिस्तान के साथ बातचीत करेंगे.

लोकसभा चुनावों के लिये सोमवार को अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया और छोटे तथा मध्यम आयवर्ग के किसानों के लिये पूर्ण कर्ज माफी के साथ पाकिस्तान से बातचीत फिर शुरू करने की बात कही है. पार्टी कार्यालय में यहां घोषणा-पत्र जारी करते हुए राकांपा महासचिव और मुख्य प्रवक्ता डी पी त्रिपाठी ने कहा कि पार्टी का प्रयास होगा कि कश्मीर घाटी में कट्टरपंथ की तरफ बढ़े युवाओं को मुख्यधारा में लाया जाए और उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे जो उनके मन में नफरत के बीज बोने में शामिल हैं. 

शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी महाराष्ट्र में 20 सीटों पर चुनाव लड़ने के साथ ही लक्षद्वीप, बिहार, ओडिशा, मेघालय और मणिपुर में एक-एक सीट पर चुनाव लड़ रही है. 

त्रिपाठी ने कहा, 'ग्रामीण इलाकों में काम कर रहे विभिन्न संगठनों के आंकड़ों के मुताबिक 90 हजार से ज्यादा लोगों ने खुदकुशी की है जिनमें से अधिकतर किसान थे. हम छोटे और मझोले आय वर्ग के किसानों के लिये पूर्ण कर्ज माफी करेंगे.' पार्टी का घोषणा पत्र मुंबई में भी जारी किया गया. 

त्रिपाठी ने कहा कि पाकिस्तान के साथ खास तौर पर आतंकवाद के मुद्दे पर बातचीत फिर से शुरू करना दोनों देशों के रिश्तों में बेहतरी के लिये जरूरी है.