बिहार : RJD के लिए गले ही हड्डी बनी शिवहर सीट, कैंडिडेट का हो रहा है विरोध

बिहार : RJD के लिए गले ही हड्डी बनी शिवहर सीट, कैंडिडेट का हो रहा है विरोध

आरजेडी कार्यकर्ताओं ने राबड़ी देवी के आवास पर घोषित उम्मीदवार के खिलाफ जमकर नारेजबाजी की है.

बिहार : RJD के लिए गले ही हड्डी बनी शिवहर सीट, कैंडिडेट का हो रहा है विरोध

पटना : बिहार का शिवहर लोकसभा सीट राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के लिए गले की हड्डी बन गई है. एक तरफ तेजप्रताप यादव ने सीट नहीं मिलने से नाराज होकर अपना उम्मीदवार दे दिया है. वहीं, दूसरी तरफ आरजेडी कार्यकर्ताओं ने राबड़ी देवी के आवास पर घोषित उम्मीदवार के खिलाफ जमकर नारेजबाजी की है. साथ ही उम्मीदवार नहीं बदलने पर आरजेडी कैंडिडेट का हराने का दावा भी किया है.

शिवहर सीट आरजेडी के लिए आसान नहीं है. तेजस्वी यादव के लिए हालात 'सिर मुंडवाते ही ओले पड़ने' जैसी हो चुकी है. आरजेडी ने जैसे ही शिवहर सीट के लिए सैयद फैसल अली के नाम की घोषणा की, आरजेडी में ही इसका विरोध शुरू हो गया.

सबसे पहला विरोध तेजप्रताप यादव ने किया. वह अपने चहते अंगेश कुमार को शिवहर से चुनाव लड़वाना चाहते हैं. लेकिन उनके फैसले को पार्टी ने दरकिनार कर दिया है. अब वह अपने कैंडिडेट को निर्दलीय मैदान में उतारने की तैयारी कर रहे हैं. तेजप्रताप का आरोप है कि वर्तमान आरजेडी का कैंडिडेट बीजेपी का ही डमी है. मीडिया से बता करते हुए उन्होंने बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी के साथ सैयद फैसल अली की तस्वीर को भी सार्वजनिक किया.

वहीं, मंगलवार को शिवहर के आरजेडी कार्यकर्ताओं ने राबड़ी आवास पर जमकर हंगामा मचाया. शिवहर से आए कार्यकर्ताओं का साफतौर पर आरोप था कि वर्तमान कैंडिडेट को वो नहीं पहचानते हैं. पैराशूट से आए किसी भी कैंडिडेट को वो बर्दाश्त नहीं करेंगे. आरजेडी कार्यकर्ताओं का कहना था कि पार्टी को अपना उम्मीदवार बदलना ही पड़ेगा. पार्टी यादव और मुस्लिम छोड़ किसी भी स्थानीय कैंडिडेट को टिकट दे दे उन्हें मंजूर है, लेकिन वर्तमान कैंडिडेट को वो किसी भी सूरत में समर्थन नहीं देंगे.

Trending news