close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा- लालू यादव के सुझाव के बाद लिया कांग्रेस में जाने का फैसला

शत्रुघ्न सिन्हा ने बताया कि कांग्रेस में जाने का फैसला लालू यादव की सलाह के बाद लिया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा- लालू यादव के सुझाव के बाद लिया कांग्रेस में जाने का फैसला
शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में शामिल होनेवाले हैं. (फोटो साभारः Twitter)

नई दिल्लीः शत्रुघ्न सिन्हा ने कांग्रेस पार्टी में शामिल होने का फैसला लिया है. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी में जानें की सलाह उन्हें आरजेडी प्रमुख लालू यादव ने दी थी. उनके सुझाव के बाद ही मैंने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने का फैसला लिया है. क्यों कि कांग्रेस सही मायने में राष्ट्रीय पार्टी है.

शत्रुघ्न सिन्हा आगामी 6 अप्रैल को कांग्रेस ज्वाइन करने का फैसला लिया है. उन्होंने बताया कि कांग्रेस में जाने का फैसला लालू यादव की सलाह के बाद लिया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस वही पार्टी है, जिसने भारत को आजाद कराया. कांग्रेस ने ही जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल जैसे नेता दिए हैं.

सिन्हा ने बीजेपी छोड़ने का मलाल भी जताया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी छोड़ना पीड़ादायी है. मैंने लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और अटल बिहारी वाजपेयी जैसे महान नेताओं के कारण बीजेपी से हाथ मिलाया था. लेकिन अब बीजेपी पहले से बदल गई है. पार्टी ने इन्हीं महान नेताओं के साथ बुरा व्यवहार किया जिससे में आहत हूं.

सिन्हा ने कहा कि अब नेतृत्व बदलने का समय आ गया है. अब कांग्रेस राहुल गांधी के हाथों में हैं. वह एक परिपक्व नेता हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ही भारत की राजनीति का भविष्य है. मुश्किल वक्त में कांग्रेस ने देश को संभाला है अब वक्त आ गया है कि कांग्रेस को फिर से मौका देना चाहिए.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि वह पटना साहिब से ही चुनाव लड़ेंगे. इसके लिए उन्होंने कांग्रेस से हाथ मिलाना ज्यादा अच्छा समझा. हालांकि मुझे कई पार्टियों से ऑफर आए. लेकिन इरादा पटना साहिब से चुनाव लड़ना था. उन्होंने कहा कि पटना साहिब भी कांग्रेस के खाते में गई है. इसलिए कांग्रेस से वह पटना साहिब के उम्मीदवार होंगे.

बहरहाल शत्रुघ्न सिन्हा ने पहले ही ऐलान कर दिया है कि वह 6 अप्रैल को कांग्रेस में शामिल होंगे. हालांकि राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि पटना साहिब सीट पर कांग्रेस ने दावा किया था इसलिए वह कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं. अगर यह सीट आरजेडी के खाते में होता तो वह आरजेडी पार्टी में शामिल होते. इसके लिए उन्होंने लालू यादव से भी सलाह ली थी. वह रांची रिम्स अस्पताल में लालू यादव से मुलाकात करने भी गए थे.