Interesting Fact of Beer: हजारों सालों से क्‍यों नहीं बदला बीयर की बोतलों का हरा और भूरा रंग, बेहद खास है वजह
X

Interesting Fact of Beer: हजारों सालों से क्‍यों नहीं बदला बीयर की बोतलों का हरा और भूरा रंग, बेहद खास है वजह

मशहूर और लोकप्रिय बेवरेज बीयर (Beer) की दुनिया में ढेरों बदलाव हुए लेकिन एक चीज सैकड़ों-हजारों साल में भी नहीं बदली, वो है बीयर की बोतल का रंग (Beer Bottle Colour). 

Interesting Fact of Beer: हजारों सालों से क्‍यों नहीं बदला बीयर की बोतलों का हरा और भूरा रंग, बेहद खास है वजह

नई दिल्‍ली: बीयर (Beer) पीने का चलन हजारों साल से है. बीयर बनाने में लगने वाली चीजों, उसे बनाने की प्रक्रिया में अब तक कई प्रयोग हुए. कई ब्रांड आए और गए लेकिन एक चीज कभी नहीं बदली वो है बीयर को रखने वाली बोतल का रंग (Beer Bottle Colour). ब्रांड चाहे कोई भी हो लेकिन बीयर की बोतलों का रंग हमेशा हरा या भूरा ही रहता है. कभी सोचा है कि इसके पीछे की वजह क्‍या है. आइए जानते हैं बीयर से जुड़ी यह अहम बात. 

हजारों साल पहले खुली थी बीयर की पहली कंपनी 

इतिहास के पन्‍नों में दर्ज जानकारी के मुताबिक बीयर का इस्‍तेमाल हजारों साल से हो रहा है. वहीं दुनिया की पहली बीयर कंपनी (First Beer Company) प्राचीन मिस्र में खुली थी. उस समय बीयर को पारदर्शी बोतलों में बंद करके बेचा जाता था लेकिन सूर्य की किरणें पारदर्शी बोतलों (Transparent Bottle) को भेदकर बीयर को खराब कर देती थीं. तेज अल्ट्रा वॉयलेट किरणों (Ultra-violet Rays) के कारण बीयर से बदबू आने लगती थी ऐसे में बहुत नुकसान होता था. तब इस समस्‍या से निजात पाने के लिए एक उपाय सोचा गया. 

ये भी पढ़ें: Interesting Facts of Railway Track: मूसलाधार बारिश झेलकर भी जंग नहीं खाती ट्रेन की पटरियां, जानिए वजह

फिर लगाया ये आइडिया 

सूर्य की रोशनी के कारण बड़ी मात्रा में बीयर को खराब होते देख बीयर बनाने वालों ने एक आइडिया लगाया. उन्‍होंने बीयर को ऐसी बोतल में भरने का फैसला किया, जिस पर सूर्य की अल्‍ट्रा वॉयलेट किरणों का असर ही न हो. इसके लिए भूरे रंग की बोतलें बढ़िया साबित हुईं. बस, ये तरकीब काम कर गई.

इसके कई साल बाद बीयर की बोतलों को हरे रंग की बोतलों में पैक किया जाने लगा क्‍योंकि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान भूरे रंग की बोतलें नहीं मिल रहीं थीं. तब बीयर कंपनियों ने हरे रंग की बोतलों (Green Colour Bottle) को चुना क्‍योंकि इन पर भी सूर्य की तेज किरणें बेअसर होती हैं. 

Trending news