close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीएम मोदी की अपील का असर, संसद भवन में नहीं होगा प्लास्टिक की बोतलों का इस्तेमाल

लोकसभा सचिवालय ने प्लास्टिक की बोतलों और अन्य सामान के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है.

पीएम मोदी की अपील का असर, संसद भवन में नहीं होगा प्लास्टिक की बोतलों का इस्तेमाल
पीएम मोदी ने 15 अगस्‍त को अपने भाषण में प्‍लास्‍ट‍िक के इस्‍तेमाल पर रोक की अपील की थी.

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री के लालकिले से की गई अपील पर अमल करते हुए संसद भवन में आज से एक बार इस्‍तेमाल होने वाली प्‍लास्टिक की बोलतों का इस्‍तेमाल न करने का फैसला लिया गया है. इस बाबत लोकसभा सचिवालय की तरफ से आदेश जारी कर प्‍लास्टिक की बोतलों सहित अन्‍य सामान के इस्‍तेमाल पर रोक लगा दिया है.

बता दें कि प्रधानमंत्री की अपील के बाद सरकार के सभी मंत्रालय भी इस दिशा में तैयारी कर रहे है. सभी मंत्रालय 2 अक्टूबर से एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक पर रोक की तैयारी है. ये मंत्रालय पीएम मोदी की अपील को अमल में लाने, इसके पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने हानिकारक प्लास्टिक बोतलों को रोकने की पहल की है.

लोकसभा सचिवालय ने आज से संसद भवन परिसर में फिर से काम मे न आने वाली प्लास्टिक की पानी की बोतलों और प्लास्टिक के अन्य सामान के इस्तेमाल पर पूरी तरह रोक लगा दी है. संसद भवन परिसर में कार्यरत लोकसभा सचिवालय और अन्य सहायक एजेंसियों के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को निर्देशों का अनुपालन करने के लिए कहा गया है.

लोकसभा सचिवालय की तरफ से जारी आदेशों में कहा गया है कि प्लास्टिक के सामान के बजाय पर्यावरण के अनुकूल और प्राकृतिक तरीके से नष्ट होने वाले थैलोंका इस्तेमाल करें. लोकसभा सचिवालय की यह पहल देश को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्र से किए गए आह्वान की दिशा में एक कदम है.

उल्लेखनीय है कि 15 अगस्त, 2019 को 73वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्र को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों से 2 अक्तूबर 2019 को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर केवल एक बार प्रयोग में आने वाली प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करने और इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाने का आह्वान किया था.

ये भी देखें