close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Nautapa 2019: आज से शुरू हुआ नौतपा, जानें 9 दिनों तक क्यों पड़ती है झुलसा देने वाली गर्मी

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक नौतपा सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करने से शुरू होता है और यह नक्षत्र 15 दिनों तक होता है, जिसके शुरुआती 9 दिनों को नौतपा के रूप में जाना जाता है. इस दौरान सूर्य, बुध, मंगल और शनि का समसप्तक योग होता है, जिससे तापमान में भारी इजाफा होता है.

Nautapa 2019: आज से शुरू हुआ नौतपा, जानें 9 दिनों तक क्यों पड़ती है झुलसा देने वाली गर्मी
इस दौरान सूर्य, बुध, मंगल और शनि का समसप्तक योग होता है, जिससे तापमान में भारी इजाफा होता है.

नई दिल्लीः आज से नौतपा शुरू हो रहा है. ऐसे में आज से लेकर 3 जून तक सूर्य की धरती से दूरी कम हो जाएगी. जिससे तापमान में वृद्धि होगी और 9 दिनों तक झुलसा देने वाली गर्मी लोगों को बेहाल कर देगी. उमस और तेज सूर्य की किरणें लोगों को न तो बाहर आराम देगी और न ही घरों के अंदर. बता दें नौतपा पूरे गर्मी के सीजन के सबसे गर्म दिन होते हैं. इस दौरान नौ दिनों तक सूर्य की पृथ्वी से दूरी कम रहती है, जिससे तापमान में भारी वृद्धि हो जाती है.

बता दें इस बार नौतपा 25 मई से लेकर 3 जून तक रहेगा. मौसम विभाग के अनुसार नौतपा के दौरान कई जगहों पर तापमान 47 डिग्री से भी ऊपर जा सकता है. जिसके चलते विभाग ने लोगों को बाहर निकलते वक्त सावधान रहने को कहा है. ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक नौतपा सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करने से शुरू होता है और यह नक्षत्र 15 दिनों तक होता है, जिसके शुरुआती 9 दिनों को नौतपा के रूप में जाना जाता है. इस दौरान सूर्य, बुध, मंगल और शनि का समसप्तक योग होता है, जिससे तापमान में भारी इजाफा होता है.

दिल्ली में लोगों को गर्मी से मिली राहत, दिन में भी छाए रहेंगे बादल

ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक इस दौरान समसप्तक योग के चलते झुलसा देने वाली गर्मी पड़ेगी. इसके साथ ही बीच के कुछ दिनों में तेज आंधी और बारिश के भी योग हैं, लेकिन इससे गर्मी में कोई राहत नहीं मिलेगी. ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक सूर्य जब रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करता है, तब सूर्य इस नक्षत्र को अपने प्रभाव में ले लेता है. जिससे सूर्य का प्रताप और भी बढ़ जाता है. इससे तापमान में वृद्धि होने लगती है और गर्मी बढ़ जाती है.

दिल्ली समेत 10 राज्यों में गर्मी का टॉर्चर, तापमान 44 डिग्री के पार

नौतपा के बारे में कहते हैं कि ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष के आद्रा नक्षत्र से लेकर दस नक्षत्रों तक अगर बारिश होती है तो वर्षा ऋतु में इन दसों नक्षत्रों में बारिश नहीं होती, वहीं अगर इन्हीं नक्षत्रों में तेज गर्मी पड़ती है तो बारिश भी अच्छी होती है.