गाड़ी चलाते समय ड्राइवरों को क्यों आती है नींद? वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

कार के स्वाभाविक तौर पर हिलने से लोगों को नींद आने लगती है और गाड़ी चलने के महज 15 मिनट बाद ऐसा होने लगता है. 

गाड़ी चलाते समय ड्राइवरों को क्यों आती है नींद? वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

मेलबर्न: कार के स्वाभाविक तौर पर हिलने से लोगों को नींद आने लगती है और गाड़ी चलने के महज 15 मिनट बाद ऐसा होने लगता है. इससे एकाग्रता और सावधानी के स्तर पर प्रभाव पड़ता है. अनुसंधानकर्ताओं के मुताबिक 20 प्रतिशत गंभीर सड़क हादसे चालकों के थके होने और नींद लगने के कारण होते हैं. उन्होंने उम्मीद जतायी कि उनके इस अध्ययन से कार निर्माताओं को कार की सीट की डिजाइन बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है ताकि चालकों को नींद नहीं आए. कंपन से नींद आने के साक्ष्य होने के बावजूद यह अच्छी तरह ज्ञात नहीं था कि इसका प्रभाव चालकों पर किस प्रकार पड़ता है. 

जानें, किस उम्र के व्‍यक्ति को कितने घंटे की नींद जरूरी है
शरीर के फिट रहने में नींद की बड़ी भूमिका है. एक व्‍यक्ति को औसतन 7-9 घंटे की नींद लेना जरूरी होता है. यदि आप देर रात को सोते हैं और सुबह जल्‍दी उठ जाते हैं तो यह तनाव के लिए जिम्‍मेदार है. इससे सेहत भी प्रभावित होती है. नियत समय पर सोना और जगना सेहत के लिए काफी लाभदायक है. जरूरत से कम सोना और जरूरत से ज्‍यादा सोना दोनों ही सेहत के लिए खतरनाक हैं. इसलिए संतुलित नींद लेना चाहिए. वैसे तो नियत समय पर सोने पर्याप्‍त और सर्वोत्‍म होता है. आइये जानते हैं कि किस उम्र के व्‍यक्ति के लिए कितने घंटे की नींद जरूरी होती है.

Image result for car driving zee news

-नवजात (3-11 माह): कम से कम 14-15 घंटे की नींद जरूरी है. छोटे बच्‍चे -(12-35 माह): 12-14 घंटे की नींद।
-बच्‍चे (3-6 साल): 11-13 घंटे की नींद जरूरी है. 
-स्‍कूली बच्‍चे: (6-10 साल) : 10-11 घंटे की नींद जरूरी है.
-किशोर (11-18 साल) : 9.25 घंटे की नींद.  
-व्‍यस्‍क : औसतन 8 घंटे की नींद जरूरी है. 
-बुजुर्ग वयस्कों को इससे कुछ कम की जरूरत होती है. 

इनपुट भाषा से भी