AUSvsIND: विराट के शतक के बाद विजय शंकर ने आखिरी ओवर में पलटी बाजी, जीत के 5 हीरो

ऑलराउंडर विजय शंकर ने मैच के आखिरी ओवर में दो विकेट लेकर भारत को रोमांचक जीत दिलाई. 

AUSvsIND: विराट के शतक के बाद विजय शंकर ने आखिरी ओवर में पलटी बाजी, जीत के 5 हीरो
विजय शंकर (बाएं) और विराट कोहली ने मैच में 81 रन की साझेदारी की. यह भारत की ओर से सबसे बड़ी साझेदारी थी. फोटो: PTI)

नई दिल्ली: भारत ने मंगलवार को खेले गए दूसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया को 8 रन से हरा दिया. इसके साथ ही उसने मौजूदा वनडे सीरीज में 2-0 की बढ़त बना ली. नागपुर में खेला गया दूसरा वनडे बेहद रोमांचक रहा. भारत ने इस मैच में 0 के स्कोर पर पहला विकेट गंवाया और विराट कोहली (116) को छोड़ दें तो कोई भी बल्लेबाज 50 रन का आंकड़ा नहीं छू पाया. अंतत: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 251 रन का लक्ष्य दिया. ऑस्ट्रेलिया ने इसके जवाब में अच्छी शुरुआत की. उसने एक समय बिना विकेट खोए 83 रन बना लिए थे. इसके बाद उसने बीच के ओवरों में जल्दी-जल्दी विकेट गंवाए. जब मैच आखिरी ओवर में पहुंचा ता गेंद विजय शंकर के हाथों में थी. क्रीज पर 52 रन पर खेल रहे मार्कस स्टोइनिस थे. पलड़ा ऑस्ट्रेलिया की ओर झुका हुआ था, लेकिन विजय ने दो विकेट लेकर मेहमान टीम के अरमानों पर पानी फेर दिया. मैच के 5 हीरो.. 

विराट कोहली का 40वां शतक 
विराट कोहली जब क्रीज पर उतरे तो भारत का खाता भी नहीं खुला था. कप्तान ने यहां से ना सिर्फ अपनी पारी शुरू की, बल्कि टीम को भी संभाला. एक छोर पर लगातार विकेट गिरते रहे और दूसरे छोर पर विराट जमे रहे. उन्होंने 116 रन बनाए. विराट ने 40वां शतक बनाया. वे जब आउट हुए तब भारत का स्कोर 248 रन हो चुका था. विराट ने अपनी इस पारी के दौरान वनडे में 1000 चौके भी पूरे कर लिए. 

विजय शंकर की बेहतरीन पारी 
विजय शंकर ने मैच में 41 गेंदों पर 46 रन बनाए. जब वे बैटिंग करने आए तब भारत 75 रन पर तीन विकेट गंवा चुका था. उन्होंने यहां से विराट के साथ 81 रन की साझेदारी कर भारत को शुरुआती झटकों से उबार दिया. विजय ने मैच का आखिरी ओवर भी फेंका. इस ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 11 रन बनाने की जरूरत थी. विजय ने सिर्फ एक ही रन दिया और स्टोइनिस को एलबीडब्ल्यू और एडम जैम्पा को बोल्ड कर मैच खत्म कर दिया. 

रवींद्र जडेजा का ऑलराउंड खेल 
रवींद्र जडेजा ने मैच में 21 रन बनाए. उन्होंने कप्तान कोहली के साथ 67 रन की अहम साझेदारी तब की, जब भारत 171 रन पर छह विकेट गंवा चुका था. जडेजा ने इसके बाद एक विकेट लिया और एक रन आउट भी किया. जडेजा ने 10 ओवर के अपने स्पेल में 48 रन दिए. 

कुलदीप यादव ने झटके तीन विकेट 
भारतीय तेज गेंदबाज टीम इंडिया को अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे थे. ऑस्ट्रेलिया ने एक समय बिना विकेट गंवाए 83 रन बना लिए थे. लेकिन चाइनामैन कुलदीप यादव ने बीच के ओवरों में कंगारुओं पर नकेल कस दी. उन्होंने एरॉन फिंच को आउट कर भारत को पहली कामयाबी दिलाई. फिर ऑस्ट्रेलिया के सबसे खतरनाक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल को आउट किया. एलेक्स कैरी भी कुलदीप के ही शिकार बने.  

बुमराह ने आखिरी स्पेल में जमाया रंग 
भारत के नंबर-1 गेंदबाज जसप्रीत बुमराह शुरुआती स्पेल में अच्छी गेंदबाजी करके भी विकेट नहीं ले सके थे. उन्होंने इसकी भरपाई तब की, जब भारत को विकेटों की सख्त दरकार थी. ऑस्ट्रेलिया एक समय 6 विकेट पर 223 रन बनाकर जीत की ओर बढ़ रहा था. बुमराह ने तभी अपने नौवें और मैच के 46वें ओवर में दो विकेट लेकर भारत की वापसी करा दी. उन्होंने इस ओवर में कुल्टर नाइल और पैट कमिंस को आउट किया. बुमराह ने 10 ओवर के स्पेल में सिर्फ 29 रन खर्च किए.