हरभजन सिंह ने किया जवानों की शहादत को सलाम, भावुक कर देंगी इस कविता की पंक्तियां

पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान शहीद होने के बाद से पूरा देश गुस्से से उबल पड़ा है.

हरभजन सिंह ने किया जवानों की शहादत को सलाम, भावुक कर देंगी इस कविता की पंक्तियां
हरभजन सिंह ने कहा, हमें देश के साथ खड़े होना चाहिए. क्रिकेट या हॉकी या किसी भी खेल में हमें उनके साथ नहीं खेलना चाहिए.

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद होने के बाद से पूरा देश गुस्से से उबल पड़ा है. भारत के राजनेता, खिलाड़ी और बॉलीवुड के सितारे एक सुर में पाकिस्तान का विरोध कर रहे हैं वहीं सोशल मीडिया पर अपने-अपने तरीके से श्रद्धांजलि दे रहे हैं. इसी कड़ी में ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से एक कविता शेयर कर जवानों की शहादत को सलाम किया है.

इस कविता को अंबाला के आर्मी पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाले अद्वित वर्मा ने लिखा है. अंग्रेजी में लिखी इस कविता की पंक्तियां काफी भावुक कर देने वाली हैं.

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

We both left home at 18. You cleared JEE, I got recommended. You got IIT, I got NDA. You pursued your degree, I had the toughest training. Your day started at 7 and ended at 5, Mine started at 4 till 9 and Some nights also included. You had your convocation ceremony, I had my POP. Best company took you and Best package was awarded, I was ordered to join my paltan With 2 stars piped on my shoulders. You got a job, I got a way of life. Every eve you got to see your family, I just wished i got to see my parents soon. You celebrated festivals with lights and music, I celebrated with my comrade in bunkers. We both married, Your wife got to see you everyday, My wife just wished i was alive. You were sent to business trips, I was sent on line of control. We both returned, Both wives couldn't control their tears, but You wiped her but, I couldn't. You hugged her but, I couldn't. Because I was lying in the coffin, With medals on my chest and, Coffin wrapped with tricolour. My way of life ended, Your continued. We both left home at 18. - Shared by Advit Verma, Army Public School, Ambala Cantonment

A post shared by Harbhajan Turbanator Singh (@harbhajan3) on

हरभजन ने कहा- हमें देश के साथ खड़े होना चाहिए
अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि भारत को पुलवामा आतंकवादी हमले के मद्देनजर आगामी विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेलना चाहिये. हरभजन ने कहा कि भारत अगर 16 जून को मैनचेस्टर में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच गंवा भी देता है तो भी इतना मजबूत है कि विश्व कप जीत सकता है. उन्होंने एक निजी चैनल के बातचीत में कहा,‘‘ भारत को विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेलना चाहिये. भारतीय टीम इतनी मजबूत है कि पाकिस्तान से खेले बिना भी विश्व कप जीत सकती है.’’ हरभजन ने कहा,‘‘यह कठिन समय है.

हमला हुआ है, यह अविश्वसनीय है और बहुत गलत है. सरकार जरूर कड़ी कार्रवाई करेगी. जहां तक क्रिकेट का सवाल है तो मुझे नहीं लगता कि हमें उनके साथ कोई भी संबंध रखना चाहिये वरना ऐसा चलता रहेगा.’’ उन्होंने कहा ,‘‘ हमें देश के साथ खड़े होना चाहिये. क्रिकेट या हाकी या किसी भी खेल में हमें उनके साथ नहीं खेलना चाहिये. ’’

जम्मू कश्मीर में गुरुवार को पुलवामा में आतंकी हमला हुआ था. इसमें भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद मुंबई के क्लब सीसीआई ने पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान की तस्वीर को ढक दिया. इसके बाद मोहाली और जयपुर में भी पाक क्रिकेटरों की तस्वीरें हटा दी गईं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) इन मसलों पर नजर बनाए हुए है.