IND vs NZ: शुभमन गिल को क्यों कहना पड़ा, मुझमें और पृथ्वी शॉ में कोई लड़ाई नहीं...

India vs New Zealand: भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट  21 फरवरी से होगा. इसमें ओपनर मयंक अग्रवाल के जोड़ीदार पृथ्वी शॉ या शुभमन गिल हो सकते हैं. 

IND vs NZ: शुभमन गिल को क्यों कहना पड़ा, मुझमें और पृथ्वी शॉ में कोई लड़ाई नहीं...

हैमिल्टन: भारत के युवा खिलाड़ी शुभमन गिल (Shubman Gill) और पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के लिए सलामी जोड़ी में जगह पाने के लिए प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं. गिल ने इस बारे में कहा कि इसका फैसला टीम प्रबंधन को करना है कि कौन खेलेगा या कौन नहीं. इसे लेकर दो युवाओं के बीच में किसी तरह की लड़ाई नहीं है. जिस खिलाड़ी को भी मौका मिलेगा वो इसे भुनाने की कोशिश करेगा. 

भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच पहला टेस्ट मैच 21 फरवरी से खेला जाना है. भारत के नियमित ओपनर रोहित शर्मा टेस्ट सीरीज में नहीं होंगे. वे चोट के कारण भारतीय टीम (Team India) से बाहर हैं. रोहित की जगह पृथ्वी शॉ या शुभमन गिल को मिल सकती है. टीम के दूसरे ओपनर मयंक अग्रवाल होंगे. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: टेस्ट मैच से पहले भारत को बड़ा झटका, पृथ्वी शॉ के बाद शुभमन भी हुए फेल

20 साल के शुभमन गिल ने कहा, ‘जाहिर सी बात है कि है कि हमारा करियर साथ ही शुरू हुआ था, लेकिन हम दोनों में किसी तरह की प्रतिस्पर्धा नहीं है. हम दोनों ने अपने क्रम पर अच्छा किया है. यह टीम प्रबंधन पर है कि वो किसे मौका देते हैं. ऐसी बात नहीं है कि इसे लेकर हम दोनों के बीच लड़ाई चल रही हो. जिसे भी मौका मिलेगा वो इसका पूरा फायदा उठाना चाहेगा.’

यह भी पढ़ें: Hockey: दुनिया के बेस्ट प्लेयर चुने गए मनप्रीत, यह अवॉर्ड जीतने वाले पहले भारतीय बने

पृथ्वी शॉ नियमित सलामी बल्लेबाज हैं तो वहीं गिल का क्रम बदलता रहता है. गिल ने हालांकि कहा है कि उनके लिए बदलते क्रम से तालमेल बिठाना ज्यादा मुश्किल नहीं है. उन्होंने कहा, ‘जब मुझसे पारी की शुरुआत करने को कहा गया तो यह मेरे लिए नई बात नहीं थी. जब आप नंबर-4 पर जाते हो तो आपके दो विकेट पहले से ही गिर गए होते हैं. यह अलग स्थिति होती है. अलग तरह का दबाव. जब आप पारी की शुरुआत कर रहे होते हो तो आपको पूरी टीम के लिए मैच बनाना होता है. यह अलग चीज है. पारी की शुरुआत करते हुए आपको ऐसी नींव रखनी होती है जो आने वाले बल्लेबाजों के लिए आसान हो.’

शुभमन गिल ने कहा कि मध्यक्रम के बल्लेबाज होने के नाते खिलाड़ी को टेस्ट में दूसरी नई गेंद के बारे में ध्यान रखना होता है. इस युवा बल्लेबाज ने कहा, ‘बीच के ओवरों में आप एक लय में खेल रहे होते है और गेंद ज्यादा स्विंग नहीं लेती है. जब फील्डिंग टीम दूसरी नई गेंद लेती है तो आपको पहले से थोड़ा सतर्क रहना होता है.’