Indian Cricket: सेलेक्टर्स ने 2 मैच खिलाकर इस धुरंधर से कर लिया किनारा, अब 12 गेंद पर 58 रन ठोक दिया मुंहतोड़ जवाब!
topStories1hindi1543982

Indian Cricket: सेलेक्टर्स ने 2 मैच खिलाकर इस धुरंधर से कर लिया किनारा, अब 12 गेंद पर 58 रन ठोक दिया मुंहतोड़ जवाब!

Indian Cricketer Century: भारत के एक बल्लेबाज ने मैदान पर घमासान मचा दिया. इस खिलाड़ी को सेलेक्टर्स ने केवल दो मैचों में मौका दिया, इसके बाद वह घरेलू क्रिकेट में लौट आया. उसी खिलाड़ी ने अब एक मुकाबले में गेंदबाजों पर कहर ही ढा दिया.

Indian Cricket: सेलेक्टर्स ने 2 मैच खिलाकर इस धुरंधर से कर लिया किनारा, अब 12 गेंद पर 58 रन ठोक दिया मुंहतोड़ जवाब!

Ranji Trophy, Devdutt Padikkal Century : भारत ने वर्ल्ड क्रिकेट को कई बेहतरीन खिलाड़ी दिए- एक से एक बल्लेबाज और खूंखार गेंदबाज. अब भी टीम इंडिया का सामना करना किसी के लिए भी आसान नहीं होता है. हालांकि कुछ खिलाड़ियों का करियर लंबा रहा तो कुछ का बेहद छोटा. ऐसा ही एक बल्लेबाज है जिसे सेलेक्टर्स ने केवल दो मैचों में मौका दिया, इसके बाद वह घरेलू क्रिकेट में लौट आया. उसी खिलाड़ी ने अब रणजी ट्रॉफी के मुकाबले में बल्ले से घमासान मचा दिया.

देवदत्त ने मचाया बल्ले से घमासान

जिस बल्लेबाज के बारे में बात हो रही है, वह कर्नाटक का प्रतिनिधित्व करने वाले देवदत्त पडिक्कल हैं. उन्होंने झारखंड के खिलाफ रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-सी मैच में 114 रनों की शानदार पारी खेली. अपनी इस पारी में उन्होंने 175 गेंदों का सामना किया और 7 चौके, 5 छक्के जड़े. अगर बाउंड्री और इसके लिए गेंदों का हिसाब लगाया जाए तो देवदत्त ने महज 12 गेंदों पर 58 रन बना दिए. इसमें से अगर अर्धशतक का आंकड़ा लगाया जाए तो उनके बल्ले से 10 गेंदों में ही 50 रन बन गए. हालांकि देवदत्त का इस दौरान ओवरऑल स्ट्राइक रेट 65.14 का रहा. 

164 रन पर सिमटा झारखंड

इस मुकाबले की बात करें तो झारखंड के कप्तान विराट सिंह ने टॉस जीता और बल्लेबाजी का फैसला किया. टीम की पहली पारी केवल 164 रन पर सिमट गई. कृष्णप्पा गौतम ने 4 और श्रेयस गोपाल ने 3 विकेट लेकर कर्नाटक को मजबूत किया. इसके बाद मयंक अग्रवाल की कप्तानी वाली टीम कर्नाटक ने अपनी पहली पारी में 300रन बनाए और 136 रनों की बढ़त हासिल की. देवदत्त के अलावा शरत बीआर ने 75 गेंदों पर 10 चौकों की मदद से 60 रन बनाए. झारखंड के लिए शाहबाज नदीम ने 5 जबकि अनुकूल रॉय ने 3 विकेट लिए. 

अभी तक खेले केवल 2 इंटरनेशनल मैच

22 वर्षीय देवदत्त पडिक्कल ने अपने अभी तक के करियर में केवल 2 ही इंटरनेशनल मैच खेले हैं. इस दौरान उन्होंने कुल 38 रन बनाए. फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर में यह उनका दूसरा शतक रहा. इससे पहले तक वह 21 मैचों में कुल 1251 रन बना चुके हैं. लिस्ट-ए में उनके नाम 1391 रन दर्ज हैं. ओवरऑल टी20 करियर में देवदत्त ने 76 मैचों में 3 शतक और 14 अर्धशतकों की बदौलत 2388 रन बनाए हैं.

भारत की पहली पसंद ZeeHindi.com - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news