close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: पाकिस्तान का बहिष्कार करने के लिए आईसीसी को लेटर लिखेगा बीसीसीआई

पुलवामा आतंकी हमले के बाद ओल्ड ट्रैफर्ड में पाकिस्तान के खिलाफ 16 जून को होने वाले विश्व कप मुकाबले का बहिष्कार करने की बातें की जा रही हैं.

World Cup 2019: पाकिस्तान का बहिष्कार करने के लिए आईसीसी को लेटर लिखेगा बीसीसीआई
सीओए प्रमुख विनोद राय ने बैठक के बाद कहा कि 16 जून को होने वाले मैच के बारे में कोई फैसला नहीं लिया गया है.

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और प्रशासकों की समिति (सीओए) की बीच शुक्रवार को हुई बैठक आईसीसी विश्व कप में पाकिस्तान के साथ होने वाले मैच पर कोई अंतिम फैसला नहीं ले सकी. सीओए के अध्यक्ष विनोद राय ने बीसीसीआई से कहा है कि वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को एक पत्र लिखे, जिसमें वह आतंकवाद को पनाह देने वाले देशों का बहिष्कार करने की बात कहे.

राय ने बैठक के बाद यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, "हम आईसीसी को जो हमला हुआ उसे लेकर अपनी चिंता के बारे में लिखेंगे. साथ ही खिलाड़ियों, अधिकारियों और हर किसी की सुरक्षा पर ध्यान देने के बारे में भी लिखेंगे."

उन्होंने कहा, "हम क्रिकेट समुदाय को बताएंगे कि भविष्य में हमें उन देशों के साथ खेलने पर गंभीर फैसला होना होगा, जहां से आतंकवाद को पनाह मिलती हो."

बैठक में राय और सीओए की अन्य सदस्य डायना इडुल्जी ने विश्व कप में 16 जून को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले को लेकर यथास्थिति का आंकलन करने का फैसला किया है.

राय ने कहा, "16 जून का मैच अभी काफी दूर है. हम इस मैच पर फैसला बाद में लेंगे और इस पर सरकार से बात करेंगे."

गौरतलब है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद ओल्ड ट्रैफर्ड में पाकिस्तान के खिलाफ 16 जून को होने वाले विश्व कप मुकाबले का बहिष्कार करने की बातें की जा रही हैं. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे.

हरभजन ने कहा, हमें देश के साथ खड़े होना चाहिए, विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेले भारत
देश के सीनियर ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन जैसे भारतीय क्रिकेटरों ने इस मैच के बहिष्कार की मांग की थी.

PAK से न खेलने की बजाए हम उसे मैच में हराकर वर्ल्ड कप में रोक सकते हैं: गावस्कर
वहीं, महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर की राय इनसे अलग है जिन्होंने कहा कि भारत को मैच का बहिष्कार करके पाकिस्तान को अंक नहीं देने चाहिए. उन्होंने हालांकि द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध जारी नहीं रखने की नीति पर कायम रहने की वकालत की थी.

(इनपुट-एजेंसी)