Ball Tampering: वेस्टइंडीज के पूरन को महंगी पड़ी गेंद से छेड़छाड़, 4 मैच का बैन लगा

निकोलस पूरन ने अफगानिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में गेंद का आकार बदलने की कोशिश की. उनकी यह हरकत कैमरे में कैद हो गई.

Ball Tampering: वेस्टइंडीज के पूरन को महंगी पड़ी गेंद से छेड़छाड़, 4 मैच का बैन लगा
वेस्टइंडीज की क्रिकेट टीम. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने वेस्टइंडीज के स्टार क्रिकेटर निकोलस पूरन (Nicholas Pooran) को बैन कर दिया है. पूरन पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप है. उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में गेंद का आकार बदलने की कोशिश की थी. उनकी यह हरकत कैमरे में कैद हो गई. आइसीसी (ICC) ने निकोलस पूरन को बॉल टैम्परिंग (Ball Tampering) दोषी माना. उन पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से चार मैचों के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है. 

वेस्टइंडीज (West Indies) के निकोलस पूरन ने आइसीसी की आचार संहिता (ICC Code of Conduct) के लेवल-3 का उल्लंघन किया है. वेस्टइंडीज और अफगानिस्तान के बीच लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेयी स्टेडियम में वनडे सीरीज खेली गई. निकोलस पूरन ने तीसरे वनडे मैच में गेंद से छेड़छाड़ कर उसकी स्थिति को बिगाड़ दिया था.  

यह भी पढ़ें: INDvsBAN: ‘क्लीन स्वीप’ की हैट्रिक बनाने उतरेगा भारत, बांग्लादेश से पहला टेस्ट कल से 

वीडियो फुटेज में साफ देखा गया कि निकोलस पूरन गेंद को अंगूठे के नाखून से खुरचकर उसकी चमक खराब कर रहे हैं. आइसीसी द्वारा मिली इस सजा के बाद निकोलस पूरन वेस्टइंडीज के लिए अगले तीन T20I और एक टेस्ट मैच नहीं खेल पाएंगे. 

 

निकोलस पूरन ने इस आरोप को मंगलवार को स्वीकार किया है. उन्होंने मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड द्वारा तय की गई सजा भी कबूल ली है. वे प्रतिबंध के खिलाफ अपील नहीं करेंगे. इसलिए अब इस मामले में कोई सुनवाई नहीं होगी. 


 इस बारे में निकोलस पूरन ने कहा, ‘मैंने गलत काम किया. मैं आईसीसी की सजा को पूरी तरह से स्वीकार करता हूं. मैं भरोसा दिलाना चाहता हूं कि यह एक अलग और आकस्मिक घटना थी, जिसे दोहराया नहीं जाएगा. मैंने साथी खिलाड़ियों, समर्थकों और अफगान खिलाड़ियों से माफी मांगना चाहता हूं.’