IPL 2019: लसिथ मलिंगा की आखिरी गेंद और बुमराह का आखिरी ओवर रहे मुंबई की जीत की वजह

आईरपीएल के फाइनल में आखिरी गेंद पर चेन्नई को जीत के लिए दो रन चाहिए थे, लेकिन मलिंगा ने मैच के बाद बताया कि उन्होंने आखिरी गेंद कैसी फेंकी जिससे उनकी टीम जीत गई लेकिन टीम को इस स्थिति तक लाने में बुमराह का बड़ा योगदान रहा. . 

IPL 2019: लसिथ मलिंगा की आखिरी गेंद और बुमराह का आखिरी ओवर रहे मुंबई की जीत की वजह
(फोटो: IANS)

हैदराबाद: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सीजन 12 के फाइनल में उसी तरह का रोमांच हुआ जिस तरह का फाइनल मैच में होना चाहिए. मैच का फैसला आखिरी गेंद पर हुआ और विजेता टीम एक रन से जीती. आखिरी ओवर में अपनी बेहतरीन गेंदबाजी के कारण मुंबई को चौथा आईपीएल खिताब दिलाने वाले तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने कहा है कि आखिरी गेंद उन्होंने अपनी वह गेंद फेंकी जो उन्हें अक्सर विकेट दिलाती है. वहीं दूसरी तरह पारी को 19वां ओवर भी जसप्रीत बुमराह ने शानदार फेंका और टीम को मैच में बनाए रखा. 

आखिरी ओवर का रोमांच
यह मैच लो स्कोरिंग रहा, लेकिन इसके बाद भी चेन्नई की टीम लक्ष्य का पीछा न कर सकी. मुंबई ने रविवार को खेले गए इस फाइनल में चेन्नई के सामने 150 रनों का लक्ष्य रखा था. चेन्नई के लिए सब कुछ सही जा रहा था. आखिरी ओवर में उसे जीत के लिए नौ रन चाहिए थे. इसी ओवर में हालांकि उसके सैट बल्लेबाज शेन वाटसन (80) रन आउट हो गए. आखिरी गेंद पर चेन्नई को दो रन चाहिए थे, लेकिन मलिंगा ने यॉर्कर पर शार्दूल ठाकुर को पगबाधा आउट करा मौजूदा विजेता को हार सौंपी. 

यह भी पढ़ें: IPLFinal2019: सचिन तेंदुलकर बोले- हालात की बेहतर समझ रोहित को विशेष कप्तान बनाती है

बुमराह का रहा मैच विनिंग प्रदर्शन
मैच में जसप्रीत बुमराह ने प्रतिष्ठा के अनुरूप मैच विनिंग गेंदबाजी की और चेन्नई पर हमेशा दबाव बनाते हुए उन्हें वापसी से रोका. चार ओवरों में सिर्फ 14 रन देकर दो विकेट लेने वाले जसप्रीत बुमराह ने कहा, "हम आखिरी में शांत रहना चाहते थे क्योंकि इस तरह की स्थिति पुणे में 2017 में भी आई थी. इस सीजन हमें हमेशा अपनी टीम पर भरोसा था. हमें हर खिलाड़ी पर भरोसा था. हमारी टीम में अपने दिन हर खिलाड़ी मैच विजेता बन सकता है." बुमराह को मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया. 

क्या कहा मलिंगा ने
मैच के बाद मलिंगा ने कहा, "आखिरी गेंद पर मैंने सोचा था कि अगर उन्हें एक रन मिल गया तो यह सुपर ओवर होगा, लेकिन मैं अपनी टीम को जिताना चाहता था और इसलिए मैंने अपनी वो गेंद फेंकी जिस पर मुझे विकेट मिलता है." लसिथ मलिंगा इस मैच और पिछले कुछ मैच में रनों का बचाव करने में कुछ खास सफल नहीं रहे थे. इस मैच में भी शेन वॉटसन ने उन्हें निशाना बनाया था. आखिरी ओवर में मलिंगा ने 7 रन दिए. 

मैच के बारे  में विस्तार से जानने के लिए पढ़ें: IPL-12 Final: मुंबई चौथी बार आईपीएल चैंपियन, आखिरी गेंद पर 1 रन से जीता मैच

पोलार्ड ने की दोनों की तारीफ
इस मैच में वाइड गेंद के विवाद में फंसे कीरोन पोलार्ड ने अपनी साथी गेंदबाज बुमराह और मलिंगा की तारीफ की. केरन पोलार्ड ने कहा, "इस तरह के मैचों में आप अच्छा करना चाहते हो. दुनिया ऐसे मैचों को याद रखती है. कई फाइनल मैचों में खेलकर मुझे जो अनुभव मिला है उससे मैं कह सकता हूं कि दूसरी पारी खेलने वाली टीम पर दबाव होता है. बुमराह और मलिंगा ने जिस तरह आखिरी के दो ओवर निकाले वो शानदार रहे."

(इनपुट आईएएनएस)