close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केदार जाधव की चोट से विश्व कप टीम में उनके विकल्प की चर्चा शुरू, जानिए कौन हैं वे 5 दावेदार

केदार जाधव के आईपीएल में चोटिल हो जाने से वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में उनके विकल्प को लेकर चर्चा शुरु हो गई है, ऐसे में पांच नामों की चर्चा जोरों पर है.

केदार जाधव की चोट से विश्व कप टीम में उनके विकल्प की चर्चा शुरू, जानिए कौन हैं वे 5 दावेदार
(फोटो: IANS)

नई दिल्ली:  इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में पंजाब के खिलाफ चेन्नई के मैच में चोटिल हुए केदार यादव की चोट की गंभीरता का पता सोमवार तक चलेगा. इसी बीच कयास लगने लगे हैं कि अगर वे इस चोट के कारण वर्ल्ड कप से बाहर हो गए तो उनकी जगह कौन लेगा. केदार की चोट को लेकर इस तरह के कयास चेन्नई के कोच के बयान के बाद आए हैं जिसमें उन्होंने साफ किया था कि केदार अब प्लेऑफ मैचों में नहीं खेलेंगे. 

बीसीसीआई कितनी गंभीरता से ले रहा है वर्ल्ड कप खिलाड़ियों की चोट को
वैसे तो बीसीसीआई का वर्ल्ड कप के खिलाड़ियों की फिटनेस को लेकर सजग है और उसने निर्देश दिया है कि आईपीएल के दौरान वर्ल्ड कप के लिए चुने गए खिलाड़ियों की चोट को पूरी गंभीरता से लिया जाए. इस लिहाज से हो सकता है कि जाधव को एतिहातन ही प्लेऑफ मैचों से दूर रखा गया हो, लेकिन जानकारों का कहना है कि जाधव को अगर ऐतिहातन बाहर किया जाता तो एक ही मैच के लिए किया जाता. पूरी रिपोर्ट आने से पहले उनका प्लेऑफ मैचों से बाहर होना संदेह पैदा कर रहा है. 

यह भी पढ़ें: IPL 2019 Qualifier One: धोनी और रोहित के शेरों में मुकाबला, जानिए कौन किस पर होगा भारी

तो अगर केदार बाहर हुए तो क्या नुकसान होगा
वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया के केवल 15 सदस्यीय टीम को चुना गया है. ऐसे में एक भी खिलाड़ी का बाहर होना टीम में बड़ा बदालाव ला सकता है.  केदार खास मिडिल ऑर्डर खिलाड़ी हैं. वे टीम इंडिया के लिए कई बार फिनिशर की भूमिका निभा चुके हैं. वे टीम में मिडिल ऑर्डर को मजबूत करने के साथ एमएस धोनी की भूमिका को मजबूत करते रहे हैं. 
 कौन आएगा केदार की जगह 

यदि केदार टीम से बाहर हुए तो उनकी जगह टीम के लिए कई दावेदार हैं. इनमें अंबाती रायडू, ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे और शुभमन गिल ऐसे खिलाड़ी हैं जो उनका स्थान ले सकते हैं. 

1 अंबाती रायडू 
जब 15 अप्रैल को बीसीसीआई ने वर्ल्ड कप के लिए 15 सदस्यीय टीम का ऐलान किया था, तब उसमें केदार जाधव का नाम न होने पर फैंस के साथ कई दिग्गजों को भी हैरानी हुई थी. अंबाती पिछले डेढ़-दो सालों में टीम इंडिया के लिए नंबर चार के बल्लेबाज क तौर पर शामिल किए जाते रहे हैं उन्हें शामिल करना उन्हें वर्ल्ड के लिए नंबर चार के उम्मीदवार के तौर पर परखना था. रायडू वैसे तो इस काम के लिए उम्मीदों के मुताबिक खरे नहीं उतरे तो उन्होंने हमेशा निराश भी नहीं किया. इसके अलावा उनका कोई तगड़ा प्रतिद्वंदी भी नहीं था. अब वे चयनकर्ताओं की पसंद हो सकते हैं. 

Ambati Rayudu

2 ऋषभ पंत
इस टीम में चयनित न हो सका दूसरा हैरान करने वाला नाम ऋषभ पंत का था.ऋषभ पंत को भी रायडू की तरह चयनकर्ताओं ने खूब आजमाया और वे 
टेस्ट में तो एमएस धोनी के विकल्प के तौर पर स्थापित भी हो गए. उन्होंने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैचों में बढ़िया प्रदर्शन भी किया था, लेकिन वनडे और टी20 में वे पिछली कुछ सीरीज में गैरजिम्मेदाराना शॉट्स लगाकर आउट होते रहे जिससे वे वर्ल्ड कप टीम में नहीं चुने जा सके. 

Rishabh Pant

3 श्रेयस अय्यर
यह एक ऐसा नाम है जो हमेशा ही टीम इंडिय़ा के लिए कमतर ही आंका गया है. इंडिया ए के लिए श्रेयस ने बतौर कप्तान और बतौर बल्लेबाज हमेशा ही प्रभावित किया है. संयोग यह रहा कि वे जब भी टीम इंडिया में चुने गए तो प्रभावित करने में नाकाम रहे. यह भी गलत नहीं है कि उन्हें उस तरह से मौके भी नहीं दिए जा सके. श्रेयस का घरेलू और फर्स्ट क्लास रिकॉर्ड बहुत ही बढ़िया वे भी केदार के बढ़िया विकल्प हो सकते हैं. 

4 मनीष पांडे
मनीष पांडे आईपीएल में इस बार बेहतरीन फॉर्म में हैं. इसके अलावा वे इंडिया ए के लिए बढि़या खेलते रहे हैं. टीम इंडिया के मामले में मनीष ने कम निराश किया है. उन्होंने दक्षिण अफ्रीका दौरे में टीम के लिए टी20 सीरीज में भी प्रभावित किया था. वे काफी सक्षम और प्रतिभाशाली बल्लेबाज माने जाते हैं. वहीं उनकी फील्डिंग भी बढ़िया रही है. वे एक शानदार एथलीट के तौर पर जाने जाते हैं. 

Manish Pandey

5 शुभमन गिल
शुभमन गिल ने अंडर 19 विश्व कप में भारतीय टीम को ट्रॉफी जिताने में अहम भूमिका निभाई थी वे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे थे. इस साल आईपीएल में भी गिल ने शानदार प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा है. उनकी तकनीक खास तौर पर प्रभावित करती है. इसके अलावा वे तेजी से रन बनाने की भी क्षमता रखते हैं. गिल को न्यूजीलैंड में एक बार मौका मिला था जिसमें ज्यादातर भारतीय खिलाड़ी 5 से ज्यादा रन भी नहीं बना सके थे. गिल ने इस मैच में 9 रन बनाए थे. लेकिन अपनी तकनीक से प्रभावित किया था. सभी का मानना है कि भारत के लिए उनका भविष्य उज्जवल है.