close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: इस गेंद पर अंपायर ने किया फ्री हिट का इशारा, तो BCCI ने पूछा- ये कैसी नो बॉल?

आईपीएल में दिल्ली और पंजाब के मैच के दौरान एम अश्विन की एक गेंद को अंपायर ने नोबॉल करार दिया. बीसीसीआई ने इसका वीडियो शेयर करते हुए पूछा है कि यह कैस तरह की नो बॉल थी. 

VIDEO: इस गेंद पर अंपायर ने किया फ्री हिट का इशारा, तो BCCI  ने पूछा- ये कैसी नो बॉल?
(फोटो IANS)

नई दिल्ली: क्रिकेट के इतिहास में कई बार इस तरह कि घटनाएं हो जाती हैं कि क्रिकेट के पंडित नियमों की किताब पलटने को मजबूर हो जाते हैं. ऐसी ही एक घटना इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन के 37वें मैच में हुई. दिल्ली और पंजाब के बीच हुए इस मैच में दिल्ली की टीम जब पंजाब के दिए 164 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी तब अंपायर ने एम अश्विन की एक गेंद को नो बॉल करार दिया जिससे सभी हैरान हो गए. 

आठवें ओवर का था यह किस्सा
दिल्ली की पारी के सात ओवर होने तक उसका स्कोर एक विकेट के नुकसान पर 67 रन हो चुका था. धवन 38 और अय्यर 20 रन बनाकर खेल रहे थे. कप्तान आर अश्विन ने गेंद मुरुगन अश्विन को सौंपी. सामने क्रीज पर श्रेयस अय्यर बल्लेबाजी कर रहे थे. पहले गेंद पर कोई रन नहीं निकला. दूसरी गेंद जब एम अश्विन ने की तब उनके हाथ से गेंद छूट गई. 

यह भी पढ़ें:  VIDEO: कोलिन इंग्राम के दिलवाए शानदार कैच ने मचाई धूम, बार-बार देख रहे हैं लोग

अपायंर के फैसले ने किया हैरान
मुरुगन अश्विन के हाथ से गेंद छूटने पर गेंद पिच के गेंदबाज के बायीं तरफ पिच से बार छिटक गई और 20 गज की दूरी भी तय नहीं कर सकी. ऐसे मौकों पर अंपायर इस तरह की गेंद को डेड बॉल करार देते हैं. एम अश्विन तो कम से कम यही उम्मीद कर रहे होंगे, लेकिन अंपायर ने इस गेंद को नो बॉल करार देकर सबको हैरान कर दिया और उसके बाद फ्री हिट का इशारा भी कर दिया. 

श्रेयस अय्यर ने भी लिया गेंद का यूं मजा
इस गेंद के एम अश्विन के हाथ से छिटकने से जब गेंद सामने की ओर जाते हुए धीमी हो गई तो श्रेयस अय्यर भी शॉट लगाने के लिए काफी आगे तक आ गए लेकिन इसके बाद भी गेंद उनसे काफी दूर थी. ऐसे में श्रेयस ज्यादा आगे नहीं बड़े और अपनी क्रीज पर लौट आए. कॉमेंटेटर्स को भी श्रेयस का यह अंदाज पसंद आया. वहीं तब तक अंपायर ने गेंद को नो बॉल करार दिया. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: IPL में अश्विन फिर पड़े मांकडिंग के फेर में, धवन के जवाब पर झूमी दिल्ली की पब्लिक

एम अश्विन को समझ ही नहीं आया कुछ
इस गेंद के बाद अश्विन की बॉडी लेंग्वेज से वे माफी मांगते से दिखे और अगली गेंद फेंकने के लिए वापस चल दिए तभी अंपायर ने नो बॉल का इशारा कर दिया. नो बॉल दिए जाने पर मरुगन हैरान होकर देखने लगे कि उन्होंने ओवर स्टेपिंग कैसे कर ली. इसके बाद वे फौरन कप्तान आर अश्विन की ओर मुड़े. अश्विन भी जल्दी से अंपायर के पास आ गए और उनसे नो बॉल दिए जाने की वजह पूछ ली. 

अंपायर ने दिया स्पष्टीकरण
तभी कप्तान आर अश्विन भी अंपायर तक पहुंच चुके थे. दोनों खिलाड़ियों ने उनसे नो बॉल देने का कारण पूछा तो अंपायर ने समझाया कि यह नो बॉल कैसे थी. अंपायर ने इशारा करते हुए कप्तान आर अश्विन को समझाया कि चूंकि मुरुगन का एक्शन पूरा हो चुका था और उसके बाद गेंद छिटक कर गिरी तो ऐसे में उन्हें गेंद को नो बॉल करार देना पड़ा. इसी बात को कॉमेंटेटर्स ने भी समझाया. कि यह गेंद नो बॉल कैसे थी. 

बीसीसीआई को भी इस वजह से हुई हैरानी!
इस घटना के वीडियो को बीसीसीआई ने अपनी वेबसाइट और ट्विटर अकाउंट पर भी शेयर किया और साथ ही सवाल कर दिया कि यह कैसी नो बॉल है. दरअसल बीसीसीआई ने इस गेंद को नो बॉल दिए जाने पर कोई आपत्ति दर्ज नहीं की है. बल्कि यह अपने आप में रोचक गेंद साबित हुई है. आमतौर पर इस तरह के मामलों में गेंद गेंदबाज के एक्शन से पहले ही छिटक जाती है, लेकिन यहां तो इस एक्शन पूरा होने के बाद ही गेंद छिटकी जिसकी वजह से उसे नो बॉल करार दिया गया.