Neeraj Chopra के भाले पर लगी रिकॉर्डतोड़ बोली, जानिए PM मोदी के किस तोहफे की कितनी कीमत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तोहफों की नीलामी खत्म हो गई है. यह बोली 17 सितम्बर से 7 अक्टूबर तक चली. इसमें कई सारे स्मृति चिन्ह, ओलिंपिक में जैवलिन थ्रोअर गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा का भाला भी शामिल था. 

Neeraj Chopra के भाले पर लगी रिकॉर्डतोड़ बोली, जानिए PM मोदी के किस तोहफे की कितनी कीमत
PM Modi with Neeraj Chopra

नई दिल्ली: 17 सितंबर से चल रही प्रधानमंत्री के तोहफों की नीलामी 7 अक्टूबर को खत्म हो गई है. इस नीलामी में सबसे महंगी बोली ओलंपिक के गोल्ड मेडलिस्ट जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा के भाले की लगी है. नीरज चोपड़ा के भाले की बोली सबसे ज्यादा 1.5 करोड़ रुपये लगी है. 

पैरालंपिक खिलाड़ियों के गिफ्ट भी इस नीलामी में थे शामिल 

इस नीलामी में 1348 स्मृति चिह्न रखे गए थे जिसकी 8600 बोलियां लगीं. इसके अलावा  गणेश जी की लकड़ी की मूर्ति, पुणे मेट्रो लाइन का स्मृति चिह्न और विजय लौ स्मृति चिन्ह भी इस नीलामी में शामिल थे. पैरालंपिक खिलाड़ियों के हस्ताक्षर वाले अंगवस्त्र की कीमत 1 करोड़ रुपए लगी है जबकि लवलीना बोरगोहेन के बॉक्सिंग गल्व्स की कीमत 91 लाख रुपए लगाई गई है.

ओलंपिक विजेताओं के गिफ्ट भी हुए नीलाम 

ओलंपिक में इस बार भारत के कई खिलाड़यों ने मेडल जीतकर भारत का मान बढ़ाया था. भारत वापस आने के बाद प्रधानमंत्री ने उन सभी से मुलाकात भी की थी जिसमें खिलाड़ियों ने उन्हें गिफ्ट दिए थे. इन गिफ्ट्स को भी नीलामी में रखा गया था. ओलंपिक में जैवलिन थ्रो में गोल्ड मैडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा के भाले की सबसे महंगी बोली 1.5 करोड़ की लगी. इसके अलावा भवानी देवी की ऑटोग्राफ वाली फेंस की बोली 1.25 करोड़ रुपए लगी. सुमित अंतिल के जैवलिन के लिए 1.2 करोड़ रुपए की बोली लगी. 

इससे मिला पैसा नमामि गंगे योजना में लगाया जाएगा 

इस नीलामी से जितना भी पैसा इकट्ठा हुआ है वह नमामि गंगे योजना के तहत गंगा की सफाई में लगाया जाएगा. पिछले साल भी 2,770 वस्तुओं की नीलामी हुई थी उससे मिली राशि भी नमामि गंगे योजना में दान की गई थी. इस नीलामी में सबसे ज्यादा 140 बोलियां सरदार पटेल की मूर्ति के लिए लगी हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.