भारतीय पहलवान दीपक पूनिया की बड़ी उपलब्धि, UWW ने चुना ‘जूनियर फ्रीस्टाइल रेसलर ऑफ द ईयर’

जूनियर से सीनियर वर्ग में शिफ्ट हुए दीपक पूनिया ने जूनियर विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतकर भारत के 18 साल के सूखे को समाप्त किया था. 

भारतीय पहलवान दीपक पूनिया की बड़ी उपलब्धि, UWW ने चुना ‘जूनियर फ्रीस्टाइल रेसलर ऑफ द ईयर’

नई दिल्ली: विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता भारतीय पहलवान दीपक पूनिया (Deepak Punia) ने अपने नाम एक और उपलब्धि हासिल कर ली है. यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) ने दीपक को ‘जूनियर फ्रीस्टाइल रेसलर ऑफ द ईयर 2019’ (UWW Jr Ffreestyle Wrestler Of The Year) के लिए चुना है. जूनियर से सीनियर वर्ग में शिफ्ट हुए पूनिया ने जूनियर विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतकर भारत के 18 साल के सूखे को समाप्त किया था. इसके अलावा उन्होंने इस साल सीनियर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में भी अपने पदार्पण में रजत पदक जीता था. 
दीपक पूनिया ने इस सम्मान को पाने के बाद कहा, ‘मैं बहुत खुश महसूस कर रहा हूं. दुनिया भर के पहलवानों के बीच से चुना जाना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है. अपने प्रदर्शन में सुधार करने और अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए यह मेरे लिए प्रेरणा का बड़ा स्रोत है.’ पूनिया इस साल नूर सुल्तान में हुई विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय थे. 

यह भी पढ़ें: INDvsWI: भारत अगर आज हारा तो सीरीज भी जाएगी हाथ से, जानें संभावित प्लेइंग XI 

दीपक पूनिया चोट के कारण फाइनल में ईरान के हसन याजदानी के खिलाफ मैट पर नहीं उतर पाए थे. लेकिन उन्होंने अपने पदार्पण को यादगार बनाते हुए 86 किग्रा वर्ग में टोक्यो ओलंपिक का टिकट हासिल किया था. अपनी इस शानदार प्रदर्शन के दम पर वे 86 किग्रा वर्ग में यूडब्ल्यूडब्ल्यू रैंकिंग में नंबर-1 स्थान पर पहुंच गए हैं. 

2016 के विश्व कैडेट में स्वर्ण पदक जीतने वाले पुनिया इस समय बीजिंग ओलंपिक के रजत पदक विजेता और 2003 विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता मुराद गाइदारोव के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग हासिल कर रहे हैं. पूनिया ने कहा, ‘मैंने अब तक उनके साथ कुछ दिन की जो ट्रेनिंग की है उससे काफी संतुष्ट हूं. गाइदारोव मेरी कमजोरियों पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं. मैंने अपनी गति पर काम किया है और अब मैं बेहतर हो रहा हूं.’

यह भी देखें: VIDEO: धोनी ने शेयर किया साक्षी का वीडियो, कहा- देखकर भी नहीं पढ़ पा रही हो तो...

दीपक पूनिया ने कहा, ‘मेरे आत्मविश्वास के स्तर में काफी सुधार हो रहा है और इसमें कोई संदेह नहीं है. मैं अब अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक में अपना शत प्रतिशत देने के लिए अधिक उत्सुक हूं. मैं टाटा मोटर्स का आभारी हूं कि वे मेरी सारी जरूरतों का ध्यान रख रहे हैं.’