aranya devi

माता का वो शक्तिपीठ जहां पूरी होती है अधूरी मनोकामना, मत्स्य पुराण में भी स्वरूप का वर्णन

मंदिर में दो मूर्तियां स्थापित हैं, जिनमें से छोटी मूर्ति मां भगवती की है जिन्हें आदि शक्ति के नाम से जाना जाता है, कहते हैं कि मां भगवती सतयुग में अवतरित हुईं और ये उनकी स्वयंभू पीठ है.

Sep 22, 2020, 06:50 AM IST