hsbc

काम की बात: क्या है ATM का इतिहास और इसके इन्वेंटर का इंडिया कनेक्शन

साल 1987 के करीब भारत में एटीम मशीन आ गई थी. पहली बार HSBC (Hong Kong and Shanghai Banking Corporation Limited) की मुंबई ब्रांच में इसे लगाई गई थी. 

Apr 6, 2021, 04:22 PM IST

सालाना 2 लाख से भी कम कमाने वाली महिला के खाते में मिले 196 करोड़, ITAT का अहम फैसला

महिला ने अपनी वार्षिक कमाई एक लाख 70 हजार रुपये दिखाई थी. इस प्रकार देखें तो विदेशी बैंक खाते में जमा धनराशि कमाने में उसे 15 हजार साल लगेंगे.

Jul 17, 2020, 08:31 PM IST

नौकरियां भी छीनने लगा अब कोरोना

कोरोना का असर न केवल अस्पतालों में दिख रहा है बल्कि अब कार्यालयों में भी इसका असर देखा जाने वाला है. एचएसबीसी बैंक अपने पैंतीस हज़ार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने वाला है..  

Feb 19, 2020, 12:58 PM IST

कालेधन पर ईडी की बड़ी कार्रवाई, दो बड़े उद्योगपत‍ियों की 31.08 करोड़ की संपत्‍त‍ि जब्‍त

ईडी ने दिग्गज रीयल्टी कंपनी एमार एमजीएफ के पूर्व प्रबंध निदेशक श्रवण गुप्ता की 10.28 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली. वहीं एक और कार्रवाई में डाबर इंडिया लिमिटेड के डायरेक्‍टर प्रदीप बर्मन की 20.8 करोड़ी की संपत्‍त‍ि जब्‍त की.

Dec 16, 2018, 12:31 AM IST

केंद्र सरकार ने कहा, ' स्विटजरलैंड से HSBC मामले में 10 दिन में सूचनाएं मिलने की उम्मीद'

पीयूष गोयल ने राज्यसभा में बताया कि स्विटजरलैंड के सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर वहां की सरकार यह जानकारियां भारत सरकार के साथ शेयर करेगी. 

Aug 7, 2018, 05:11 PM IST

देश में आने वाले समय में GDP वृद्धि दर की उम्मीद

भारत की आर्थिक वृद्धि दर में आने वाले समय में तेजी की उम्मीद है और इसके 2019-20 में सुधरकर 7.6 फीसदी रहने का अनुमान है. इसका कारण माल एवं सेवा कर (जीएसटी) तथा नोटबंदी के क्रियान्वयन के कारण जो समस्या उत्पन्न हुई थी, उससे प्रमुख क्षेत्रों का अब लगभग उबरना शुरू होना है.

Jan 2, 2018, 05:36 PM IST

'अगले 10 साल में भारत होगा दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था'

एचएसबीसी का मानना है कि 2019-20 के बाद मौजूदा सुधारों के कारण उत्पन्न अल्पकालीन बाधाएं दूर हो जाएंगी. 

Sep 29, 2017, 05:39 PM IST

देश की आर्थिक वृद्धि दर अप्रैल-जून तिमाही में 6 फीसदी रहने का अनुमान

 वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी के अनुसार तिमाही के दौरान कमजोर निवेश तथा निर्यात वृद्धि से उच्च निजी निवेश तथा सरकारी व्यय का प्रभाव फीका रह सकता है.

Aug 30, 2017, 10:42 PM IST

'मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की GDP वृद्धि दर 7.1% रहेगी'

वैश्विक वित्तीय संस्थान एचएसबीसी ने मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की जीडीपी वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत पर स्थित रहने का अनुमान लगाया है क्योंकि निवेश की स्थिति कमजोर है और सरकारी खर्च उम्मीद के अनुरूप नहीं रहेगा.

Jun 4, 2017, 06:34 PM IST

भारत की जीडीपी वृद्धि 7.1 प्रतिशत रहने की संभावना: HSBC

भारत की आर्थिक (जीडीपी) वृद्धि वित्त वर्ष 2017-18 में 7.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है। बैंकों के पास नकदी की पर्याप्त आपूर्ति होने और बजट में घोषित योजनाओं से आर्थिक गतिविधियों को आगे और गति मिलने की संभावना है।

Feb 2, 2017, 05:28 PM IST

दिसंबर में नीतिगत दरों में 1 और कटौती संभव: HSBC

विदेशी ब्रोकरेज कंपनी एचएसबीसी का मानना है कि रिजर्व बैंक दिसंबर की मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों में एक और दौर की कटौती करेगा। एचएसबीसी ने कहा कि पिछली नीति में केंद्रीय बैंक ने नरम रूख अपनाया है ऐसे में आगामी मौद्रिक समीक्षा में एक और कटौती की उम्मीद है जिसके बाद मध्यावधि में वह यथास्थिति कायम रखेगा।

Nov 7, 2016, 03:21 PM IST

ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश, मुद्रास्फीति 2017 के लक्ष्य से नीचे रहने का अनुमान

मुद्रास्फीति रिजर्व बैंक के 2017 की शुरुआत के लिये तय पांच प्रतिशत के लक्ष्य से कम रह सकती है, इससे ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश है। एचएसबीसी की एक रिपोर्ट में यह अनुमान व्यक्त किया गया है।

Sep 30, 2016, 03:21 PM IST

HSBC भारत को लेकर अधिक आशावादी, सेंसेक्स 28500 पर पहुंचने का अनुमान

वैश्विक ब्रोकरेज कंपनी एचएसबीसी ने घरेलू संकेतकों में सुधार और बेहतर वास्तविक कापरेरेट लाभ की उम्मीद के मद्देनजर भारत के लिए दर्जा बढ़ाकर ओवरवेट (अधिक आशावादी) किया है। एचएसबीसी ने 2016 के अंत तक के लिए सेंसेक्स का लक्ष्य भी 26,000 से बढ़ाकर 28,500 कर दिया है।

Jul 4, 2016, 04:53 PM IST

भारत की आर्थिक वृद्धि दर वित्त वर्ष 2016-17 में 7.4% रहने का अनुमान: HSBC

वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी एचएसबीसी के अनुसार देश की वार्षिक जीडीपी वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में ‘स्वत: ठीक करते हुए ’ 7.4% के स्तर पर बनी रह सकती है। एचएसबीसी को लगता है कि देश की नई जीडीपी सीरीज अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर की सच्चाई को बढ़ा चढ़ाकर पेश करती है और अगली कुछ तिमाही में यह अधिमूल्यांकन कम हो सकता है।

मई 4, 2016, 05:46 PM IST

नितिगत ब्याज में हो सकती है 0.25 प्रतिशत की कटौती: HSBC

राजकोषीय घाटे को सीमित करने की सरकार की प्रतिबद्धता से आश्वस्त रिजर्व बैंक अपनी उदार मौद्रिक नीति आगे भी जारी रख सकता है और अपनी नीतिगत ब्याज दर में 0.25% की कटौती कर सकता है। यह बात एचएसबीसी की एक रिपोर्ट में कही गई है।

Mar 1, 2016, 03:16 PM IST

कालाधन के खातों के बारे में जानकारी लीक करने वाले स्विस बैंक के पूर्व कर्मचारी को 5 साल की जेल

एचएसबीसी के पूर्व कर्मचारी और खातों के बारे में जानकारी लीक करने वाले (व्हिस्लब्लोअर) हर्व फल्सियानी को आज स्विटजरलैंड की एक संघीय अदालत ने पांच साल जेल की सजा सुनाई। फल्सियानी की ‘स्विसलीक्स’ भारत की काले धन की जांच में बहुत महत्वपूर्ण रही है।

Nov 28, 2015, 11:02 AM IST

एशिया के बूते 2050 तक ग्लोबल व्यापार 68,500 अरब डॉलर पर पहुंचेगा: HSBC

एशिया के बल पर 2050 तक वैश्विक व्यापार 68,500 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा। एचएसबीसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत से वस्तुओं के निर्यात की वृद्धि दर चीन से अधिक हो जाएगी।

Nov 24, 2015, 04:32 PM IST

कालाधन: HSBC की चुराई गई सूची में शामिल भारतीय जांच दायरे में

काले धन के बारे में एचएसबीसी की चुराई गई सूची में शामिल भारतीयों के खिलाफ अपने रूख को कड़ा करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने इन मामले में हवाला व मनी लॉन्ड्रिंग के अपराध की दृष्टि से एक स्वतंत्र शुरुआती जांच शुरू की है। निदेशालय (ईडी) ने इस संबंध में विभिन्न अदालतों के रजिस्ट्रर कार्यालयों से अब तक 140 इकाइयों के खिलाफ आयकर विभाग द्वारा दायर अभियोजन आरोप पत्रों का ब्यौरा हासिल करने का काम शुरू किया है।

Nov 23, 2015, 10:47 AM IST

कालाधन पर होगा बड़ा खुलासा! भारत के साथ सहयोग को तैयार है HSBC का पूर्वकर्मी

एचएसबीसी में कालाधन रखने वालों की सूची जारी करने वाले व्हिसलब्लोअर हर्व फल्सियानी ने आज दावा किया कि भारत से लाखों करोड़ों का गैरकानूनी या कालाधन बाहर भेजा जा रहा है। हालांकि उन्होंने कहा कि वह कालेधन की जांच के मामले में भारतीय जांच एजेंसियों से ‘सहयोग’ को तैयार है, बशर्ते उन्हें संरक्षण दिया जाए।

Nov 2, 2015, 07:37 PM IST

ग्रामीण इलाकों में मुद्रास्फीति शहरी इलाकों से अधिक: HSBC

मुद्रास्फीति में पिछले कुछ महीनों में उल्लेखनीय गिरावट के बावजूद इसका फायदा सबको बराबर नहीं मिला है, क्योंकि ग्रामीण इलाकों में मंहगाई दर शहरी इलाकों से अधिक है और ऐसा ढांचागत दिक्कतों के कारण हुआ है। वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी एचएसबीसी के मुताबिक भारत के ग्रामीण इलाकों में ईंधन, खाद्य और मुख्य खंडों में मुद्रास्फीति अधिक है। एचएसबीसी ने एक रपट में कहा ‘ढांचागत दिक्कतों के कारण ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को वैश्विक स्तर पर मुद्रास्फीति में नरमी का पूरा फायदा नही मिल पा रहा है।’ 

Oct 22, 2015, 04:45 PM IST